सरिया : स्वच्छता को मुंह चिढ़ाता और रोग मुक्त जीवन की सरकारी कल्पना का मजाक सरिया के काला रोड में उड़ता दिख रहा है। वहां पर घनी आबादी के लोग रोगी होने का इंतजार कर रहे हैं। काला रोड सरिया बाजार को बड़की सरिया से जोड़नेवाला मुख्य मार्ग है। बड़की सरिया राजस्व पंचायत भी है। काला रोड इसी बड़की सरिया के पश्चिम पंचायत में पड़ता है। मुख्य रूप से इस सड़क पर लहेरी समाज के लोग रहते हैं। वे प्रतिदिन जुगाड़ पर अपनी रोजी रोटी चलाते हैं। यहां मुख्य मार्ग के बीचोंबीच गंदा व बदबूदार पानी जमा होता है नतीजतन लोग इससे बहुत परेशान हैं। इस बदबूदार पानी में कुलबुलाते कीड़े किसी भी अज्ञात बीमारी या महामारी फैलाने के लिए काफी हैं। इस रोड में रहनेवाले तोतो लहेरी, शंकर लहेरी, शकुंतला देवी, मीना देवी व कौशल्या देवी ने गंदगी भरे तालाबनुमा सड़क को दिखाया। यह भी बताया कि मुखिया प्रतिनिधि से कहते-कहते वे थक गए पर वे कुछ सुनते ही नहीं हैं। वे लोग ब्लॉक भी गए व अपनी समस्या को बताया लेकिन फिर भी वही हालात हैं। लगता है अब उनलोगों की जिदगी इसी नरक में गुजरेगी।

सरिया मध्य के जिला परिषद सदस्य अनूप कुमार पांडेय ने कहा कि जलजमाव से मुक्ति का एक ही उपाय है सड़क के किनारे नाली बनाना परंतु जिला परिषद के पास कोई फंड नहीं है। इसे मुखिया की लापरवाही कही जा सकती है क्योंकि 14वें वित्त के तहत मुखिया को फंड मिलता है। उन्हें ग्रामसभा करवाकर नाली निर्माण को प्राथमिकता देनी चाहिए जिससे जलजमाव की समस्या से मुक्ति मिल सके।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस