गढ़वा, जासं। पुलिस ने चिनियां थाना क्षेत्र के विगत कुछ दिनों से आतंक का पर्याय बन चुके अपराधी बितन यादव का सहयोगी चिनियां थाना के सरकी निवासी उमेश चौधरी पिता यदुनाथ चौधरी को गिरफ्तार की है। उमेश यादव के निशानदेही पर पुलिस ने उसके घर से एक सेमी ऑटोमेटिक रायफल, 134 राउंड जिंदा कारतूस, 9 इलेक्ट्रानिक डेटोनेटर, एक स्वनिर्मित हैंड ग्रेनेड, एक पिट्ठू, एक काले रंग की वर्दी तथा काला गमछा बरामद की है। यह जानकारी मंगलवार को अपने वेश्म में पत्रकार वार्ता कर पुलिस अधीक्षक अश्विनी कुमार सिन्हा ने दी।

इन्होंने बताया कि चिनियां थाना क्षेत्र के डोल गांव निवासी बितन यादव, उमेश चौधरी के सहयोग से लगातार आपराधिक घटनाओं को अंजाम दे रहा था। एक पखवारे के भीतर बितन ने डोल गांव में पंकज साहू तथा उदय यादव को गोली मार दी थी। इस घटना के बाद से बितन अपने सहयोगी उमेश चौधरी के साथ फरार चल रहा था। इसकी गिरफ्तारी के लिए अभियान एसपी सदन कुमार तथा रंका एसडीपीओ मनोज कुमार महतो के नेतृत्व में चिनियां थाना क्षेत्र में छापेमारी अभियान चलाया जा रहा था।

इसी दौरान सूचना मिली की उमेश चौधरी अपने घर सरकी आया हुआ है। सूचना आलोक में एसडीपीओ ने अपने नेतृत्व में थाना प्रभारी चिनियां बुधराम समद तथा धुरकी थाना प्रभारी योगेंद्र कुमार समेत सशस्त्र बल के साथ उमेश के छापेमारी कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया। साथ ही उसकी निशानदेही पर उक्त सभी सामन को बरामद किया गया। एसपी ने कहा कि बितन यादव को पकड़ने के लिए पुलिस की छापेमारी लगातार चल रही है। एसपी ने कहा कि सूचना के अनुसार बितन यादव तथा उमेश चौधरी के पास दो सेमी आॉटोमेटिक रायफल है। इसमें एक बितन तथा एक को उमेश चौधरी लेकर क्षेत्र में घूमा करता है। इसमें एक सेमी ऑटोमेटिक रायफल बरामद कर लिया गया है। पत्रकार वार्ता में एसपी के अलावा अभियान एसपी सदन कुमार समेत कई पुलिस पदाधिकारी उपस्थित थे।

Edited By: Alok Shahi