गढ़वा, जासं। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी का सोमवार को दो अलग-अलग जगहों पर अलग-अलग व्यवहार दिखा। वे सोमवार को नप के वार्ड 6 बैल बाजार तथा वार्ड 10 सांई मोहल्ला में अटल मोहल्ला क्लिनिक का उद्घाटन करने पहुंचे थे। तामझाम के साथ मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी, विधायक सत्येंद्र नाथ तिवारी, नप अध्यक्ष ¨पकी केसरी तथा नप उपाध्याक्ष मीरा पांडेय ने वार्ड 10 में फीता काटकर तथा नारियल फोड़कर अटल क्लिनिक का उद्घाटन किया।
यहां से मंत्री अपने काफिले के साथ शहर के वार्ड संख्या 6 बैल बाजार पहुंचे। यहां अटल मोहल्ला क्लिनिक के उद्घाटन को लेकर लगाए गए शिलापट्ट में स्वास्थ्य मंत्री का नाम ही नहीं था। वे भड़क गए। मोहल्ला क्लिनिक का उद्घाटन किए बगैर ही वे गढ़वा स्थित अपने आवास लौट गए। मंत्री के अचानक बदले तेवर से वहां मौजूद प्रशासनिक महकमे में खलबली मच गई। अनुमंडल पदाधिकारी सह नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी प्रदीप कुमार मंत्री को मनाने पहुंचे। लेकिन मंत्री ने उनकी एक भी न सुनी।
मंत्री ने नप अध्यक्ष ¨पकी केशरी को निशाने पर लेते हुए कहा कि जब हर जगह शिलापट्ट पर अध्यक्ष का ही नाम है तो मुझे किसलिए बुलाया गया? हालांकि वार्ड 10 में लगे शिलापट्ट में भी मंत्री का नाम नहीं था। लेकिन शिलापट्ट वार्ड विकास केंद्र के अंदर में लगे होने तथा वहां लोगों की भीड़ जमा रहने के कारण उनकी नजर शिलापट्ट पर नहीं पड़ी थी।
लेकिन वार्ड 6 में उनकी नजर सीधे शिलापट्ट पर पड़ गई। उनका पारा चढ़ गया। इस बाबत मौके पर उपस्थित उपायुक्त हर्ष मंगला ने कहा कि उक्त दोनों ही योजना नगर विकास विभाग की थी। इस कारण स्वास्थ्य मंत्री का नाम शिलापट्ट में अंकित नहीं था। उपायुक्त ने इस पूरे प्रकरण पर हैरानी जताई।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप