गढ़वा: हाथों से मेंहदी का रंग छूटा भी नहीं था कि उसकी अर्थी उठ गई। मामला रंका थाना क्षेत्र के पुरेगड़ा गांव का है। एक माह पूर्व दूल्हन बनकर ससुराल आई रीना ने जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या कर ली। घटना को लेकर गांव में तरह-तरह की चर्चा हो रही है। ससुरालवाले इस घटना से हतप्रभ हैं। वहीं मायकेवाले भी इस पर कुछ कहने की स्थिति में नहीं हैं। बताते चलें कि गत 12 मई को पुरेगड़ा निवासी राजा भुइयां का पुत्र उदय भुइयां का विवाह रमकंडा थाना क्षेत्र के चपरी गांव निवासी जयशंकर भुइयां की 19 वर्षीया पुत्री रीना देवी के साथ हुआ था। विवाह के बाद रीना ससुराल में रहने लगी। 16 जून को रीना का भाई मुलाकात करने आया था। एक दिन रहने के बाद वह 17 जून की शाम घर लौट गया। परिजनों के अनुसार इसके कुछ ही देर बाद रीना अचानक घर से बाहर छटपटाते हुए निकली। उसकी स्थिति देख परिजन अस्पताल ले जाने की व्यवस्था कर ही रहे थे तभी उसकी मौत हो गई। इसकी सूचना पर रीना के मायकेवाले भी पुरेगड़ा पहुंचे। उनलोगों ने रीना की मौत को लेकर कोई मामला भी दर्ज नहीं कराया है। ससुरालवालों की सूचना पर रंका पुलिस ने शव को कब्जे में लेते हुए सोमवार को अंत्यपरीक्षण कराकर परिजनों को सौंप दिया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप