रंका: बालू के अवैध खनन एवं भंडारण तथा चोरी से ऊंचे कीमत पर बिक्री किए जाने के मामले में जिला खनन पदाधिकारी विजय कुमार ओझा ने शनिवार को रंका थाना में बालू के दो बड़े माफियाओं के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराते हुए अग्रेत्तर कार्रवाई करने का अनुरोध किया है। थाना को दिये आवेदन में विजय कुमार ओझा ने कहा है कि रंका निवासी भोला साव के पुत्र महेंद्र साव एवं कंचनपुर गांव निवासी बासुदेव दुबे के पुत्र छोटू दुबे द्वारा क्रमश: दौनादाग में एक लाख घनफीट एवं कंचनपुर गांव में 50 हजार घटनफीट बालू का अवैध रूप से विभिन्न नदियों से उत्खनन कर चोरी छिपे लाकर भंडारण करने एवं व्यापक पैमाने पर ऊंचे कीमत पर बिक्री की गई थी। मालूम हो कि दोनों बालू माफियाओं के अवैध भंडारित स्थल पर अगस्त 2017 को बालू को जब्त कर रॉयल्टी कार्यालय में जमा करने का पत्र दिया गया था मगर आज तक दोनों बालू माफियाओं द्वारा रॉयल्टी जमा नहीं किया गया। उल्टे चोरी छुपे बालू का अवैध उत्खनन कर ऊंचे कीमत पर बिक्री की जा रही है। विजय कुमार ओझा ने बताया कि महेंद्र साव को सात लाख 74 हजार एवं छोटू दुबे को तीन लाख 57 हजार 760 रुपए रॉयल्टी जमा करने का निर्देश दिया गया था। मगर दोनों द्वारा निर्देश की अवहलेना की गई। महेंद्र साव पर लगातार चोरी छिपे बालू का उत्खनन एवं बिक्री किए जाने के क्रम में चार जनवरी को भी रंका थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। बावजूद इसके दोनों बालू माफिया अभी सरकारी राजस्व एवं खनिज की लगातार चोरी करने में लगे हुए हैं। इस बावत रंका थाना प्रभारी जितेंद्र कुमार ने बताया कि जिला खनन पदाधिकारी के आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। जल्द ही कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस