कांडी: कांडी पंचायत के बहेरवा गांव निवासी चंदन कुमार ¨सह, पिता कामेश्वर ¨सह ने सउदी अरब में रहते हुए वर्ष 2011 से 2013 तक गांव में बांध बांधने व कुआं खोदने तथा बांधने का काम किया है। कांडी प्रखंड में मनरेगा में हुई गड़बड़ी का मामला उजागर हुआ है। इतना ही नहीं चंदन ने काम के बदले कांडी डाकघर से खाता संख्या 614133 के माध्यम से बकायदा 25 हजार रुपये मजदूरी भी लिया है। इस विषय में खुद चंदन ¨सह ने ही लिखित आवेदन देकर मामले का खुलासा करते हुए इसकी जांच व कार्रवाई की मांग की है। चंदन के पिता को पंचायत से खेत समतलीकरण की एक योजना दी गई थी। चंदन इनदिनों विदेश से घर आया हुआ है। चंदन ने पिता की योजना के संदर्भ में जॉब कार्ड को लेकर नेट पर सर्च किया तब इस मामले का भंडाफोड़ हुआ। उसने सउदी अरब मे रहते हुए 18 जनवरी 2011 से 24 जनवरी 2011 तक छह दिन बहेरवा में एक कूप निर्माण योजना में काम किया है। जबकि दो मई 2012 से 22 मई 2012 तक 18 दिन बहेरवा के इमलिया बांध जीर्णोद्धार योजना में मजदूरी की। वहीं पांच सितंबर 2012 से 25 सितंबर 2012 तक 18 दिन बांध मरम्मत में काम किया। जबकि चार दिसंबर 2012 से 28 जनवरी 2013 तक 48 दिन जय प्रकाश मेहता के ढबरिया गांव के कूप निर्माण योजना में ऑनलाईन मजदूरी की है। चंदन द्वारा इसका खुलासा करने के बाद से प्रखंड से लेकर पंचायत तक में हड़कंप मचा हुआ है। जानकारों का कहना है कि इसकी निष्पक्ष जांच होने के बाद कई अधिकारी के साथ-साथ पंचायत प्रतिनिधि कार्रवाई के लपेटे में आएंगे। क्योंकि बगैर इनकी मिलीभगत का इस प्रकार की फर्जीवाड़ा नहीं हो सकता।

पक्ष

मामला गंभीर है इसकी जांच कराई जाएगी। जांच में जो भी दोषी पाए जाएंगे उनके विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी।

चंद्रमोहन कश्यप, उप विकास आयुक्त, गढ़वा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस