नगर थाना क्षेत्र के कड़हरबील मोहल्ले में बुधवार शाम पिस्टल लेकर दुकानदारों को धमकाने वाले योगेश कुमार गुप्ता को दुकानदारों ने धर दबोचा। उसे एक दुकान में बैठाकर पुलिस को सूचित किया। पुलिस उसे हिरासत में लेकर थाना आई। दुकानदार बिटटू कुमार के बयान पर पुलिस ने मामला दर्ज किया है। वहीं, उसके आधा दर्जन साथी भीड़ जुटने के बाद भी बाइक से भाग निकले।

रसिकपुर का योगेश गुप्ता का अपनी पानी का प्लांट है। वह शहर में कई जगह पर जार पहुंचाता है। उसने कड़हरबील में किराना की दुकान करने वाले बिटटू कुमार को पानी दिया था, जिसका 25 सौ रुपये बकाया था। पैसे को लेकर कई बार उसकी कहासुनी हो चुकी है। सुबह वह अपने एक दर्जन साथियों के साथ दुकान आया और बकाया पैसा भी लिया। इसके बाद शाम को वह फिर अपने आधा दर्जन साथियों के साथ बाइक लेकर पहुंच गया। उसने पिस्टल लहराते हुए दूसरे दुकानदार को धमकाया और जान से मारने की धमकी दी। दुकानदारों ने स्थानीय ग्रामीणों के साथ उसे पकड़ने का प्रयास किया तो सभी भागने लगे, लेकिन योगेश उनके हाथ आ गया। ग्रामीणों ने योगेश की पिटाई कर दुकान में कैद कर लिया और पुलिस को सूचित किया। इसके बाद सहायक अवर निरीक्षक गंगाधर सिंह मौके पर पहुंचे और योगेश को हिरासत में लिया। दुकानदारों का कहना था कि योगेश के दो साथी विक्की के पास पिस्टल था। आरोपित छह माह पहले ही दुष्कर्म केस में जेल से जमानत पर बाहर आया। वहीं, योगेश का कहना था कि सुबह विवाद के बाद वह माजरा जानने के अपने साथियों के साथ आया था। वहीं, नगर थाना प्रभारी देवव्रत पोद्दार ने बताया कि दुकानदार बिटटू के बयान पर मामला दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Jagran