दुमका : सूबे की उपराजधानी दुमका में आधारभूत संरचनाओं को बहाल करने की दिशा में जबरदस्त पहल हुई है। सुगम आवागमन, स्वास्थ्य, शिक्षिका, शहरी विकास समेत कई बुनियादी जरूरतों को ध्यान में रखकर यहां योजनाओं को धरातल पर उतारा जा रहा है। शहर क्षेत्र में दमकता दुमका चमकता दुमका तो ग्रामीण इलाकों में प्रधानमंत्री आवास योजना, शौचालय निर्माण, आंगनबाड़ी केंद्र समेत कई महत्वाकांक्षी योजनाएं धरातल पर उतारी जा रही हैं। दुमका में मेडिकल कॉलेज के भवन के निर्माण का काम द्रुत गति से चल रहा है। महिला पॉलिटेक्निक समेत कई आइटीआइ व अन्य तकनीकी शिक्षण संस्थानों की स्थापना यहां हुई है। उच्च शिक्षा के क्षेत्र में सिदो-कान्हू मुर्मू विश्वविद्यालय बदलाव के चौमुंहाने पर है। दुमका के महुआडंगाल में माडल कॉलेज का निर्माण कार्य चल रहा है। हंसडीहा में बनकर तैयार डेयरी इंजीनियरिग कॉलेज बन कर पूरी तरह से तैयार हो चुका है। दुमका के मसलिया में नेतरहाट के तर्ज पर विद्यालय की स्थापना और दुमका में सेंट्रल स्कूल के भवन की नींव रखी जा चुकी है। दुमका के मयूराक्षी नदी पर पथ निर्माण विभाग के माध्यम से पुल निर्माण का काम तेजी से चल रहा है। यह राज्य में सबसे लंबा पुलों में एक होगा।

ये है आधारभूत संरचनाओं की फेहरिस्त

दुमका के दुधानी से टाटा शोरूम चौक तक फोर लेन पथ का निर्माण

- ओपन जिप की शुरुआत

- जामा के कमारदुधानी राज्य स्तरीय तीरंदाजी प्रशिक्षण केंद्र बनकर तैयार

- जामा के कमारदुधानी में स्पो‌र्ट्स कांप्लेक्स का निर्माण

- मसानजोर में मयूराक्षी टूरिस्ट कांप्लेक्स

- दुमका एयरपोर्ट का विस्तारीकरण व सुदृढ़ीकरण

- बासुकीनाथ में अंडर-ग्राउंड केबलिग

- मुक्तिधाम में सीढ़ी व चाहरदीवारी निर्माण का शिलान्यास

- दुमका में स्विमिग पुल के निर्माण का शिलान्यास

- शहर के विभिन्न चौराहों का सुंदरीकरण

- सदर अस्पताल का हो रहा अपग्रेडेशन

ये है दुमका में प्रधानमंत्री आवास योजना का लक्ष्य

----

कुल लक्ष्य - 36309

स्वीकृत - 36309

पूर्ण - 25844

उपलब्धि - 71 फीसद

-----------

ये है स्वच्छ भारत मिशन के तहत बनाए गए शौचालय

--------

कुल लक्ष्य - 196531

हासिल - 196531

-----------------

क्या कहते हैं दुमका के शहरी व ग्रामीण

------------

शहरी क्षेत्र में हो रहे तेज बदलाव से यहां की जनता पहले से राहत महसूस कर रही है। दुधानी के अमन लाल कहते हैं कि टॉवर चौक से टाटा शोरूम तक बनाई गई फोर लेन सड़क से यहां आवागमन सुगम हुआ है और भविष्य में स्थिति और बेहतर होगी इसकी आस जगी है। शहर के कई हिस्सों में ओपन जिम की स्थापना से युवाओं में काफी खुशी है। युवाओं का कहना है कि दुमका तेज बदलाव की ओर है। स्विमिग पुल, सुंदरीकरण से शहर पहले से ज्यादा खूबसूरत दिख रहा है। वहीं जामा प्रखंड के कुकुरतोपा गांव की चुड़की सोरेन को इसलिए नाराजगी है क्योंकि उसे शौचालय और प्रधानमंत्री आवास नहीं मिला है। हालांकि इस गांव में 22 ग्रामीणों को प्रधानमंत्री आवास मिला है जिससे वे काफी खुश हैं। 34 शौचालयों का भी निर्माण हुआ है।

Posted By: Jagran