बासुकीनाथ : हाल के दिनों में मॉब ली¨चग की घटनाओं में वृद्धि और इस प्रकार के मामलों पर रोक करने के लिए हाई कोर्ट के निर्देश के आलोक में जरमुंडी पुलिस अनुमंडल पदाधिकारी अनिमेष नैथानी ने जरमुंडी पुलिस अनुमंडल में एक क्यूआरटी टीम की प्रतिनियुक्ति की मांग की है। एसडीपीओ ने बताया कि यहां पर क्यूआरटी की प्रतिनियुक्ति बेहद आवश्यक है। बासुकीनाथ मंदिर में सालों भर वीआइपी का आना लगा रहता है। दुमका व सांस्कृतिक राजधानी देवघर के बीच लगातार वीआइपी की आवाजाही लगी रहती है। यह क्यूआरटी टीम उनके ईस्कॉर्ट से लेकर उनकी सुरक्षा का बाहरी घेरा बनाने, बासुकीनाथ में प्रत्येक सोमवारी, पूíणमा एवं अन्य विशिष्ट तिथियों पर होनेवाली भीड़ को नियंत्रित करने को लेकर बेहद उपयोगी साबित होगी। टीम में करीब 35 युवा महिला व पुरुष पुलिस जवान होते हैं। रेस्क्यू टीम के तहत कार्य करेगी। इसमें रेस्क्यू टीम, एक छोटी गाड़ी के अलावा मिर्ची बम, खुजली बम से लैस कर्मी रहेंगे। इसके अलावा इनके पास बॉडी प्रोटेक्टर, शिल्ट, लाठी, नाइट विजन, एंटी राइट गन के अलावा इस दस्ते में महिलाएं एवं पुरुष सदस्य भी शामिल रहेंगे। बताया कि पुलिस अनुमंडल में क्यूआरटी की प्रतिनियुक्ति हो जाने से इसके अंतर्गत आनेवाले जरमुंडी, सरैयाहाट, जामा, हंसडीहा व रामगढ़ थाना में किसी भी प्रकार की विधि व्यवस्था की स्थिति उत्पन्न होने पर तत्काल मदद पहुंचाई जा सकती है। इसके अलावा अनुमंडल क्षेत्र के सभी संवेदनशील स्थल सड़क किनारे के सभी संवेदनशील स्थान व गांव भी चिह्नित कर लिए गए हैं। इस संबंध में आवश्यक तैयारी की जा रही है।

Posted By: Jagran