संवाद सूत्र, दलाही :

मसलिया प्रखंड की मसानजोर पंचायत के गुंदलिया आंगनबाड़ी केंद्र संख्या 119 का अपना भवन नहीं होने से पोषक क्षेत्र के बच्चे, किशोरी व गर्भवती महिलाओं को काफी परेशानी हो रही है। शनिवार को केंद्र के सामने ग्रामीणों व अभिभावकों ने आंगनबाड़ी केंद्र बनाने की मांग की। ग्रामीणों ने बताया कि केंद्र न बनने से टीकाकरण के दिन परेशानी का सामना करना पड़ता है। छोटे से कमरे में पैर रखने की जगह नहीं है। तपती धूप में महिलाओं को बाहर खड़ा रहना होता है। हर माह इसी तरह की परेशानी उठानी पड़ती है। आंगनबाड़ी केंद्र की सेविका अनीता कुमारी ने बताया कि इस असुविधा के वह बालविकास परियोजना पदाधिकारी व प्रखंड विकास पदाधिकारी को आंगनबाड़ी केंद्र निर्माण के चिह्नित जगह का सारा दस्तावेज समेत आवेदन दिया है। दो साल के बाद आज तक इस पर कोई सुनवाई नहीं हो सकी है। पोषक क्षेत्र दो टोला में बंटा है, जिस कारण गुंदलिया मुख्य टोला आंगनबाड़ी केंद्र से एक बहियार पार कर एक किलोमीटर दूरी तय कर पहुंचना होता है। केंद्र तक आने के बाद आराम करने व बैठने तक की जगह नहीं है। छोटे बच्चों को लेकर बाहर प्रतीक्षा करनी पड़ती है। छोटी जगह पड़ने के कारण शारीरिक दूरी का पालन नहीं हो पाता है। शिप्रा मंडल, संतोष मंडल, महादेव कुमार, कमला कांत पंडित, नंदलाल पंडित, काजल पंडित आदि पोषक क्षेत्र के अभिभावकों ने आंगनबाड़ी केंद्र की निर्माण की मांग की है। सीडीपीओ विमला देवी ने बताया कि अभी तक इस तरह आवेदन मेरे पास नहीं आया है। वहीं प्रखंड विकास पदाधिकारी पंकज कुमार रवि से काफी प्रयास के बाद संपर्क नहीं हो सका। उन्होंने फोन ही रिसीव नहीं किया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप