फोटो 012

संवाद सहयोगी, रामगढ़ : प्रखंड के छोटी रणबहियार में शनिवार को कलश यात्रा के साथ सात दिवसीय श्रीमद् भागवत कथा सप्ताह ज्ञान यज्ञ का शुभारंभ हुआ। 151 बालिका तथा महिलाओं ने धोबैय नदी से कलश में जल भरकर पूरे गांव का भ्रमण किया। इसके बाद मथुरा के कथा व्यास राष्ट्रीय संत काष्णी बालयोगी ब्रह्मानंद व उनके सहयोगी द्वारा विधि विधान के साथ यज्ञ स्थल पर कलश को स्थापित कराया गया। उन्होंने कहा कि भागवत कथा का आयोजन करने से गांव में सुख समृद्धि एवं शांति आती है। सात दिनों तक भगवान स्वयं छोटी रणबहियार गांव में विराजमान रहेंगे। सभी लोगों को अपने जीवन में गंभीरता के साथ भागवत कथा का श्रवण करना चाहिए। भागवत कथा का श्रवण करने मात्र से ही जीवन धन्य हो जाता है। भागवत कथा आयोजन समिति के सदस्यों ने बताया कि प्रतिदिन संध्या पांच बजे से रात्रि 10 बजे तक संगीतमय भागवत कथा का आयोजन किया जाएगा। भागवत कथा का समापन 22 फरवरी को हवन तथा भंडारा के साथ किया जाएगा। वहीं 21 फरवरी की रात्रि भव्य शिव की बारात निकाली जाएगी तथा शिव पार्वती का विवाह कराया जाएगा। भागवत कथा में मुख्य यजमान आनंदी यादव तथा उनकी पत्नी सुबल देवी को बनाया गया है। भागवत कथा को सफल बनाने में जिला परिषद सदस्य सुलोचना देवी, भोला राय, राजेन्द्र प्रसाद साह, राजीव जायसवाल, श्रीकांत साह, शिशुपाल यादव, विद्युत कुमार, गौरी शंकर राय, रमेश जायसवाल, दीपक कुमार साह, प्रभात जायसवाल समेत गांव के अन्य लोग सराहनीय भूमिका निभा रहे हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस