दलाही : रविवार को मसलिया में विभिन्न योजनाओं की आधारशिला रखने के बाद मंत्री लुईस मरांडी जब रागदापाड़ा बसकीडीह के बीच तीन करोड़ की लागत से बने 115 मीटर पुल का उद्घाटन करने पहुंची तो खामियां देखकर उनका पारा चढ़ गया। ग्रामीणों के अनुरोध पर मंत्री ने पुल का निरीक्षण किया तो पुल का काम तो लगभग ठीक था, पर डायवर्सन व पुल को जोड़नेवाली सड़क में काफी अनियमितता थी। पुल के आगे रेलिग नहीं बनी थी। उन्होंने अभियंता जय प्रकाश सिंह को फटकार लगाई और उद्घाटन करने पर मना कर दिया। कहा कि काम पूरा करें तब उदघाटन किया जाएगा। ठेकेदार गायब था। पुल के दोनों ओर गार्डवाल में खानापूíत का काम हुआ था। बसकीडीह घुसते समय पुल के आगे काफी तिरछा घुमावदार था। गार्डवाल में लगे पत्थर पर सीमेंट से जुड़ाव नहीं था। ग्रामीणों ने बताया कि पुल निर्माण के समय ही अनियमितता बरती गई है। कई बार ग्रामीणों ने सही काम न होते देख काम बंद भी करवाया है। ठेकेदार माणिक दे विरोध के डर से सामने नहीं आया और अपने मुंशी अमित महतो को आगे कर दिया। बाद में मंत्री उद्घाटन करके निकल गई।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप