बच्चों को दी गई एमडीएम की प्रतिपूर्ति भत्ता की राशि

संवाद सहयोगी, रामगढ़ (दुमका) : धोबा पंचायत के बालक विद्यालय रामगढ़ में सोमवार को समारोह आयोजित कर विद्यालय में अध्ययनरत बच्चों के बीच मध्यान्ह भोजन योजना की प्रतिपूर्ति राशि का वितरण पंचायत के नवनिर्वाचित मुखिया प्रेमलाल सोरेन एवं उप मुखिया ज्योति देवी ने किया। मौके पर मौजूद विद्यालय के प्रधानाध्यापक प्रमोद प्रसाद जायसवाल ने बताया कि कोरोना काल में विद्यालय बंद के दौरान मध्यान्ह भोजन योजना बंद थी। मध्यान्ह भोजन योजना के बदले बच्चों को विभाग द्वारा चावल दिया गया था। वहीं इसके अलावा अन्य सामान जैसे दाल, तेल, सब्जी, अंडा इत्यादि की राशि बच्चों को प्रदान करने के लिए सरस्वती वाहिनी माता समिति के खाते में राशि भेजी गई है। जो प्रतिपूर्ति भत्ता के तौर पर अब दी जा रही है। वर्ग एक से पांच तक के बच्चों को 4.97 पैसा एवं वर्ग छह से आठ तक के बच्चों को 7.45 पैसा प्रति दिन के हिसाब से दिया जाना है। प्रमोद जायसवाल ने बताया कि उनके विद्यालय में वित्तीय वर्ष 2020-21 के वर्ग एक से पांच तक के 15 बच्चों की राशि भेजी गई है। शेष बच्चों की राशि उसके खाते में भेज दी गई थी। 665.78 रुपया के दर से प्रति बच्चा को नगद भुगतान किया गया। वहीं वित्तीय वर्ष 2021-22 में 20 दिन, तीन दिन एवं 206 दिन की राशि भेजी गई है। विद्यालय के वर्ग एक से पांच तक के 36 बच्चों को 20 दिन का 99.40 रुपया प्रति बच्चा, वर्ग छह से आठ तक के 41 बच्चों को 20 दिन का 149 रुपया प्रति बच्चा नगद दिया गया। वर्ग एक से पांच तक के 70 बच्चों को 206 दिन का 1023.80 रुपया प्रति बच्चा, वर्ग छह से आठ तक के 160 बच्चों को 206 दिन का 1534.70 रुपया प्रति बच्चा नगद दिया गया। वर्ग एक से पांच तक के 71 बच्चों को तीन दिन का 14.91 रुपया प्रति बच्चा एवं वर्ग छह से आठ तक के 163 बच्चों को 3 दिन का 22.35 रुपया नगद दिया गया। इससे पूर्व विद्यालय के बच्चों द्वारा धोबा पंचायत के नव चयनित मुखिया प्रेमलाल सोरेन, उप मुखिया ज्योति देवी, वार्ड सदस्य लीलमुनी हांसदा एवं मायबीटी बेसरा को माला पहनाकर स्वागत किया गया। इस दौरान विद्यालय के सभी शिक्षक उपस्थित थे।

Edited By: Jagran