दुमका : गोपीकांदर प्रखंड के खरौनी बाजार पंचायत के अन्तर्गत नमोडीह गांव के प्रधान टोला में पीने के पानी की समस्या को लेकर शुक्रवार को उपायुक्त से मिलने आए ग्रामीण और सिदो-कान्हू मुर्मू सामाजिक एकता मंच के सदस्यों ने आवेदन देने के बाद रिसीविग नहीं देने पर नाराजगी जताई है। शनिवार को सभी ने बैठक कर उपायुक्त कार्यालय के पदाधिकारी की कार्यशैली पर आक्रोश जताया। फोकस एरिया गोपीकांदर प्रखंड के खरौनी बाजार पंचायत, गांव नमोडीह प्रधान टोला के ग्रामीण आज भी झरना व डोभा का पानी पीने के लिए विवश हैं। प्रखंड विकास पदाधिकारी को ग्राम सभा कर आवेदन देने के बाद भी जब इसका समाधान नहीं हुआ तो ग्रामीण और सिदो-कान्हू मुर्मू सामाजिक एकता मंच के सदस्यों ने उपायुक्त से मुलाकात करने का प्रयास किया। उपायुक्त से मुलाकात नहीं होने पर दूसरे अधिकारी ने आवेदन लिया। जब ग्रामीणों ने आवेदन की रिसीविग मांगी तो कहा कि जनता दरबार में आवेदन की रिसीविग नहीं मिलती है। आपलोगों को चापाकल चाहिए या रिसीविग। ग्रामीणों के बार-बार आग्रह पर भी रिसीविग नहीं दी गई। ग्रामीणों ने मांग की है कि नियमानुकूल उचित कार्यवाही करते हुए उपायुक्त कार्यालय आवेदन की रिसीविग दें और समस्या का त्वरित निष्पादन करें।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप