जागरण संवाददाता दुमका: छत्रपति शिवाजी की 390 वीं जयंती पर बुधवार को पटेल चौक स्थित उनकी प्रतिमा पर पटेल सेवा संघ व कुर्मी महासभा के सदस्यों ने माल्यार्पण किया।

नगर परिषद उपाध्यक्ष विनोद कुमार लाल ने शिवाजी की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए कहा कि वे भारत के एक महान राजा एवं रणनीतिकार थे। 1674 में पश्चिम भारत में मराठा साम्राज्य की नींव रखी। कई वर्ष औरंगजेब के मुगल साम्राज्य से संघर्ष किया। सन 1674 में रायगढ़ में उनका राज्यभिषेक हुआ और वह छत्रपति बने। अपनी अनुशासित सेना एवं सुसंगठित प्रशासनिक इकाइयों कि सहायता से एक योग्य एवं प्रगतिशील प्रशासन प्रदान किया। उन्होंने समर-विद्या में अनेक नवाचार किए तथा छापामार युद्ध की नई शैली शिवसूत्र विकसित की। प्राचीन हिन्दू राजनीतिक प्रथाओं व दरबारी शिष्टाचारों को पुनर्जीवित किया। फारसी के स्थान पर मराठी एवं संस्कृत को राजकाज की भाषा बनाया।

माल्यार्पण करने वालों में अमिता रक्षित, प्रदीप्त मुखर्जी ,मनोज कुमार घोष, संदीप कुमार, पटेल सेवा संघ के अध्यक्ष अशोक कुमार राउत, मनीष यादव ,विक्रम कुमार, रविकांत राउत ,जतिन कुमार, कुणाल मित्रा, प्रेरणा बरियार, अनुपमा भारती, लक्ष्मण यादव आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस