रानीश्वर : रानीश्वर प्रखंड 20 सूत्री समिति के सदस्य सुरेश साह ने मैट्रिक परीक्षा में कदाचार पर रोक लगाने के लिए जिले के 31 परीक्षा केंद्रों में सीसीटीवी लगाने में हुई गड़बड़ियों के मद्देनजर इसे चुनौती देने के लिए अब सूचना का अधिकार को हथियार बनाने का निर्णय लिया है।

सुरेश ने बताया कि कन्या मध्य विद्यालय रघुनाथपुर के परीक्षा केंद्र में कदाचार होने कि खबर दैनिक जागरण में लगातार खबर प्रकाशित हुई है। इस समाचार को संज्ञान में लेकर वस्तुस्थिति की जानकारी लेने पर पता चला है कि यहां सीसीटीवी तो लगाया है पर परीक्षा हॉल में कदाचार कराने के लिये कैमरा भवन के बाहर लगा दिया है। ताकि परीक्षा हाल का सीसीटीवी फुटेज उपलब्ध नहीं हो। सुरेश ने आगे बताया कि झारखंड अधिविद्य परिषद दुमका के विशेष प्रशाखा पदाधिकारी एवम स्थानीय बीडीओ को इसकी सूचना देकर यहा कदाचार पर रोक लगाने के लिये प्लस टू उच्च विद्यालय रघुनाथपुर के परीक्षा केंद्र के तर्ज पर कैमरा परीक्षा हाल के साथ जोड़ा जाय। बीडीओ एवं जैक का जांच दल यहां परीक्षा संचालन का जायजा लेने आए थे पर आज तक किसी अधिकारी ने यहां कैमरा को परीक्षा हाल के साथ जोड़वाने का पहल नहीं की है। सुरेश ने बताया है कि जिले में कदाचार मुक्त परीक्षा के लिए सभी केंद्रों मे सीसीटीवी लगाने के लिए 10 लाख रुपये आवंटित किया गया है। दूसरी ओर शिक्षा माफिया ने यहां सीसीटीवी लगाने को मजाक बना दिया है। सूचना अधिकार कानून के तहत इसकी जानकारी मांगने का निर्णय सुरेश ने लिया है। कहा कि गुरूवार की देर शाम 20 सूत्री समिति के अध्यक्ष ने उसे फोन पर शिकायत वापस लेने का आग्रह किया है और साथ ही लिखित देने को कहा है कि समाचर पत्र के पत्रकार को किसी प्रकार का बयान नहीं दिया है। पत्रकार अपने मन से उसका बयान छाप दिया है लेकिन सुरेश ने ऐसा करने इन्कार कर दिया है। शुक्रवार को सुबह 20 सूत्री जिला समिति के एक सदस्य ने भी फोन कर शिकायत वापस लेने का आग्रह किया है। इसको लेकर सुरेश आहत है और मामले की उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग कराने का निर्णय लिया है।

परीक्षा हाल में लगाया गया कैमरा

रानीश्वर : अखिरकार शुक्रवार को कन्या मध्य विद्यालय रघुनाथपुर स्थित मैट्रिक के परीक्षा केंद्र में सीसीटीवी कैमरा को परीक्षा हाल के साथ जोड़ा गया है। यहां कैमरा विद्यालय भवन के बाहर लगा कर परीक्षा में जम कर कदाचार कराने के मामले का कई अभिभावकों ने तीव्र विरोध किया है। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के छात्र नेता विमान ¨सह ने शुरू में ही परीक्षा की निगरानी हेतु कैमरा को हॉल के साथ जोड़ने की मांग की थी। 20 सूत्री समिति के सदस्य सुरेश साह ने मंगलवार को यहां कैमरा हाल के साथ जोड़ने की मांग की थी। अंतत शुक्रवार को कैमरा हॉल में लगाया गया है। जानकारी के अनुसार यहां केंद्र में भवन के सीमित संसाधन में हाल एवं बरामदे में 10 जगह परीक्षाíथयों को बैठाया जा रहा है। एक शिक्षक के अनुसार यहां चार कैमरा उपलब्ध है। इसलिए चार जगह को सीसीटीवी के साथ जोड़ा गया है। जबकि सात स्थानों पर कैमरा नहीं लगा है। स्थानीय लोगों ने बताया है कि दैनिक जागरण समाचार पत्र में लगातार कदाचार मुक्त परीक्षा को लेकर सवाल खबर प्रकाशित होने का परिणाम कैमरा हाल के साथ जोड़ा गया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप