दुमका, जागरण संवाददाता। राज्य में जब से झामुमो, राजद और कांग्रेस की सरकार बनी है। तब से बांग्लादेशी घुसपैठ तेजी से बढ़ी है। इसका मुख्य केंद्र बिंदु संताल परगना ही है। यह बात भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सह राज्यसभा सांसद दीपक प्रकाश ने शुक्रवार को परिसदन में कही।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि साहिबगंज के राजमहल से बड़ी संख्या में घुसपैठ हुई है। जनसंख्या में भारी अंतर आया है। आर्थिक रूप से देश पर बोझ तो पड़ा है। यहां के लोगों का रोजगार प्रभावित हुआ हैं। घुसपैठ की वजह से लगातार अपराध में वृद्धि हुई है। हेमंत सरकार के संरक्षण में सब फल फूल रहे हैं। इन लोगों का वोट बैंक के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है।

विशेष समुदाय के लोग स्कूल में घुसे

दीपक प्रकाश ने कहा कि लव जिहाद मामले में इन लोगों की भूमिका है। उन्होंने कहा कि हाल में रांची के ओरमांझी में एक विशेष समुदाय के लोग स्कूल में घुस गए और हथियार के बल पर छात्राओं को जबरन उठाने की धमकी दी। राज्य का हर व्यक्ति इस घटना को जानता है, लेकिन सरकार खामोश हैं।

2 सितंबर को हुई थी किशोरी की हत्या

प्रदेश के 18 सौ ऐसे स्कूल हैं, जहां पर रविवार की जगह शुक्रवार को अवकाश होता है। 13 सौ ऐसे स्कूल हैं, जहां प्रार्थना को ही बदल दिया गया। दो सितंबर को रानीश्वर की जिस किशोरी की हत्या कर दी गई, उसके पीछे कौन है। कौन हत्यारे को प्रेरित कर रहा था। अब यह कहना गलत नहीं होगा कि हेमंत सरकार में सारे पदाधिकारी पंगु बनकर रह गए हैं।

'सरकार के सारे पदाधिकारी पंगु'

सरकार की करतूत की वजह से अब दूसरे राज्य में झारखंडी को सम्मान की नजर से नहीं देखा जाता है। इसके लिए और कोई नहीं मुख्यमंत्री ही जिम्मेवार हैं। कहा कि भाजपा इन सभी मुददों पर अब चुप बैठने वाली नहीं है। जल्द ही हमला बोल और हल्ला बोल आंदोलन शुरू किया जाएगा। मौके पर जिलाध्यक्ष परितोष सोरेन और पिंटु अग्रवाल मौजूद थे।

Edited By: Umesh Kumar