जिले में कोरोना के बढ़ती गति के बीच शनिवार को एक राहत भरी खबर आयी है। एक दिन में 296 कोरोना संक्रमित इस वायरल बीमारी से ठीक हो गए। वहीं, 93 नए मामले आए हैं, जिनमें से 32 मसलिया और 26 जामा प्रखंड में मिले हैं। मसलिया में एक ही परिवार के दस व दूसरे के छह सदस्य संक्रमित हुए हैं। जिले में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या घटकर 645 रह गई है। शनिवार को दुमका सदर के 136, जरमुंडी के 37, जामा के 31, शिकारीपाड़ा के 28, रानीश्वर के 21, गोपीकांदर के 15, मसलिया के नौ, काठीकुंड के सात, सरैयाहाट एवं रामगढ़ के छह-छह कोरोना संक्रमित फालोअप जांच में निगेटिव निकले। वहीं नए मरीज में दुमका के 15, शिकारीपाड़ा के आठ, जरमुंडी के छह, काठीकुंड के चार और सरैयाहाट व गोपीकांदर का एक-एक व्यक्ति शामिल है। नए मरीज में दो से 17 वर्ष के 14 बच्चे भी शामिल हैं। मसलिया के बाथियाबांक का दो वर्षीय बालक, जरमुंडी का तीन वर्षीय, मसलिया के केशोरायडीह के छह से लेकर 17 वर्ष के सात बच्चे, गोलबाजार का नौ वर्षीय बच्चा, जामा का आठ वर्षीय बच्चा और दुमका शहर के श्रीराम पाड़ा मोहल्ले के 15 व 17 वर्ष के बच्चे भी कोरोना पाजिटिव पाए गए हैं। मसलिया के केशोरायडीह में एक परिवार के दस, दूसरे परिवार के छह समेत 17 व्यक्ति संक्रमित हुए हैं। इसी प्रखंड के गोलबाजार में पांच, धोधरा में चार, हथियापाथर व बेहराबांक में दो-दो व सीएचसी व रानीघाघर में एक-एक कोरोना संक्रमित मिला हैं। जिले में अबतक कोरोना से 5729 लोग संक्रमित हो चुके हैं, जिसमें से 47 की पहले और दूसरे लहर में मौत हो चुकी है। वर्तमान में कोरोना संक्रमित 645 में से केवल दो मरीज डेडिकेटेड कोविड केयर अस्पताल में भर्ती है जबकि अन्य सभी होम आइसोलेशन में रह रहे हैं। शनिवार को कोरोना की जांच के लिए जिले के 3370 लोगों का सैंपल लिया गया है।

Edited By: Jagran