गिरिडीह, जेएनएन। राजेंद्र सिंह उर्फ राजो सिंह नामक 36 वर्षीय युवक की शनिवार को गला दबाकर हत्या कर दी गई। हत्यारों ने हत्या करने के बाद शव को गांव के बगल में स्थित बुढ़वा तालाब में फेंक दिया। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को तालाब से निकालकर अपने कब्जे में ले लिया। पुलिस ने मृतक के पिता नागेश्वर सिंह उर्फ नगदी सिंह की लिखित शिकायत पर हत्यारोपित कयूम अंसारी उर्फ पकौड़ी को गिरफ्तार कर लिया है। यह मामला बिरनी थाना अंतर्गत खैरीडीह गांव का है। पुलिस ने रविवार को शव को पोस्टमार्टम के लिए गिरिडीह भेज दिया।

राजेंद्र सिंह शनिवार को दोपहर करीब तीन बजे अपने घर से यह कहकर निकला था कि वह कयूम अंसारी के घर जा रहा है। शाम करीब पौने चार बजे बजे जब राजेंद्र नहीं लौटा, तो उसकी मां ने उसे मोबाइल पर कॉल किया। फोन कयूम अंसारी ने रिसीव किया। उसने बताया कि राजेंद्र ने काफी शराब पी ली है। वह बात करने की स्थिति में नहीं है। उसे बाद में घर पहुंचा देंगे। इस बीच शाम करीब पौने पांच बजे किसी ने गांव के तालाब में एक शव देखा। उसने इसकी जानकारी गावं के लोगों को दी। राजेंद्र के पिता नागेश्वर सिंह भी वहां पहुंचे। लाश उनके बेटे राजेंद्र सिंह की थी। एसडीपीओ विनोद कुमार महतो, थाना प्रभारी सुरेश मंडल, अवर निरीक्षक रवि कुमार पुलिस बल के साथ पहुंचे। शव को अपने कब्जे में लेने के बाद एसडीपीओ ने मृतक के पिता एवं गांव के दूसरे लोगों से मामले की जानकारी ली।

नागेश्वर सिंह ने बताया कि उनके बेटे की हत्या कयूम अंसारी ने की है। कयूम के साथ इस हत्या में और भी लोग शामिल हैं। इसके बाद पुलिस ने कयूम को उसके खैरीडीह गांव के ढढ़ागीर टोला स्थित आवास से गिरफ्तार कर लिया गया।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस