धनबाद, जेएनएन। धनबाद रेल मंडल में कर्मचारियों के आवासों की स्थिति अत्यंत दयनीय है। बार-बार मामले को उठाने पर भी प्रगति काफी धीमी है। इससे कर्मचारियों में आक्रोश बढ़ रहा है। यह कहना है ईस्ट सेंट्रल रेलवे कर्मचारी यूनियन के प्रतिनिधियों का। मौका था डीआरएम समेत अन्य विभागीय अधिकारियों के साथ आयोजित स्थायी वार्ता तंत्र की बैठक का।

इस दौरान यूनियन ने आवास समस्या का स्थायी समाधान करने की बात कही। इस पर रेलवे ने बताया कि कर्मचारियों के लिए 2300 नए रेल आवास बनाने के लिए स्वीकृति प्रक्रिया चल रही है। साथ ही पुराने आवासों को भी जल्द मेंटेनेंस कराया जाएगा। यूनियन ने रेलवे अस्पताल में आवश्यक दवाओं की कमी, विशेषज्ञ अस्पतालों में नेत्र चिकित्सा और महिला एवं प्रसव संबंधित इलाज के लिए आधुनिक अस्पतालों से अनुबंध करने की मांग की।

यूनियन ने डीआरएम से मांग किया कि वरीय सहायक रेल चालकों की पदोन्नति की जाए। सात ही इंजीनियरिंग स्थापना विभाग को कार्मिक विभाग को स्थानांतरित किया जाए। यूनियन ने डीआरएम को पेयजल संकट से अवगत कराया। उन्होंने बताया कि पेयजल आपूर्ति के लिए जिम्मेवार विभागों के बीच समन्वय नहीं होने से आयेदिन परेशानी होती है। साथ ही रेलवे कॉलोनियों की सफाई व्यवस्था की मांगों की। डीआरएम ने संबंधित विभागों को कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

Posted By: Sagar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस