धनबाद, जेएनएन। लॉकडाउन के दौरान झारखंड-पश्चिम बंगाल की सीमा पर बराकर नदी के रास्ते अवैध रूप से अंग्रेजी शराब की तस्करी का पुलिस ने खुलासा किया है। बुधवार को एसडीपीओ विजय कुशवाहा के नेतृत्व में पुलिस टीम ने कुमारधुबी कोलियरी के किनारे छापेमारी कर भारी मात्रा में शराब की खेप पकड़ी। पुलिस ने छापेमारी में 40 बोतल अंग्रेजी शराब के साथ दो लोगों को गिरफ्तार किया, जबकि दो लोग भाग खड़े हुए।

पुलिस ने घटनास्थल से एक मोटरसाइकिल भी जब्त की। वहीं दूसरी मोटरसाइकिल लेकर धंधेबाज फरार हो गए। एसडीपीओ ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि पश्चिम बंगाल के बराकर से भारी मात्रा में अवैध रूप से अग्रेजी शराब झारखंड में लाई जा रही है। सूचना मिलते ही पुलिस टीम गठित कर छापेमारी की गई। टीम बराकर नदी से आने वाले सभी रास्तों पर गुप्त रूप से निगरानी कर रही थी।

इसी दौरान चिरकुंडा सरसापहाड़ी निवासी कुंदन साव बराकर नदी पार कर बंगाल की ओर से भारी मात्रा में शराब की बोतल लेकर लाया। उसने राजेश ठठेरा को शराब की बोतल सौंपी। सोनारडंगाल निवासी बच्चू साव इस शराब को इलाके में खपाने जा रहा था। मौके पर ही कुंदन साव व बच्चू साव को पुलिस ने धर दबोचा। वहीं राजेश ठठेरा व एक अन्य दस बोतल शराब फेंककर भाग खड़े हुए। पुलिस 40 बोतल शराब पकडऩे में सफल हो गई।

पुलिस पूछताछ में कुंदन साव व बच्चू साव ने बताया कि वे लोग सूरज ठठेरा के घर पर शराब को स्टॉक करते थे। पुलिस अन्य लोगों को पकडऩे के लिए छापेमारी कर रही है।  एसडीपीओ ने बताया कि लॉकडाउन प्रारंभ होने के बाद से अवैध रूप से बंगाल से शराब की तस्करी का धंधा जारी था। धंधे में शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Sagar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस