धनबाद, जेएनएन: कभी-कभी यात्री भी ऐसे सुझाव दे देते हैं कि अगर उन पर अमल हो जाए तो वाकई बड़ी आबादी को खास सुविधा मिल जाएगी। ऐसा ही एक आइडिया एक ट्विटर यूजर ने दिया है। ट्रेन के एक्सटेंशन के साथ-साथ उसके टाइम टेबल का स्लॉट भी तैयार कर दिया है। धनबाद डीआरएम आशीष बंसल को आइडिया पसंद भी आया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि सुझाव नोट कर लिया गया है।

क्या है आइडिया

रेलवे ने धनबाद से गया के बीच चलने वाली इंटरसिटी एक्सप्रेस का एक्सटेंशन डेहरी आन सोन कर दिया है। 24 जून से ही ट्रेन डेहरी आन सोन के लिए चल पड़ी है। बिहार जाने वाले यात्री इस फैसले से खुश हैं। पर ज्यादातर यात्रियों की डिमांड इस ट्रेन को सासाराम तक चलाने की है। यात्री कह रहे हैं बस 18 किलोमीटर और बढ़ा दीजिए तो डेहरी से सासाराम आ जाएगा। इन्हीं में से एक यात्री ने इस ट्रेन को धनबाद से वाराणसी तक चलाने का आइडिया दिया है। बताया है कि एलएचबी रेक से इस ट्रेन को चलाया जाए और कोडरमा से डेहरी आन सोन के बीच कुछ ठहराव कम कर दिए जाएं तो दिन में धनबाद से वाराणसी के लिए सीधी ट्रेन मिल जाएगी। ट्रेन सुबह खुलकर दोपहर तक वाराणसी पहुंच सकती है। फिर दोपहर में वाराणसी से खुलकर रात में धनबाद भी आ सकती है। धनबाद से वाराणसी तक के अलग-अलग स्टेशनों पर ठहराव और टाइम टेबल का स्लॉट भी यात्री ने सुझाया है। डीआरएम ने सुझाव नोट भी कर लिया है। अब बारी रेलवे की है। इस पर अमल हो जाए तो धनबाद से बाबा विश्वनाथ के दरबार तक पहुंचने को सीधी ट्रेन मिल सकती है।

सुझाया गया टाइम टेबल

धनबाद से वाराणसी

धनबाद - सुबह 6:20

गोमो - सुबह 6:45

कोडरमा - सुबह 7:57

गया - सुबह 9.10

डेहरी आन सोन - सुबह 10:25

पीडीडीयू - दोपहर 12:10

वाराणसी - दोपहर 1:15

वाराणसी से धनबाद

वाराणसी - दोपहर 1:50

पीडीडीयू - दोपहर 2:35

डेहरी आन सोन - शाम 4:00

गया - शाम 5:10

कोडरमा - शाम 6:15

गोमो - शाम 7:35

धनबाद - रात 8:40

Edited By: Atul Singh