जासं, मैथन/निरसा : एमपीएल में बहुत जल्द कोयले की आपूर्ति रेलवे रैक के माध्यम से होगी। एमपीएल बनने के बाद उसमें लगनेवाले कोयले की ढुलाई हाईवा के माध्यम से होती है। रेल रैक से प्लांट तक कोयले की आपूर्ति सुलभ बनाने के लिए रेलवे प्रोजेक्ट पर काम चल रहा है। इसी कड़ी में सोमवार की सुबह थापानगर रेलवे स्टेशन से एमपीएल के कोल यार्ड तक लोको इंजन का सफल ट्रायल किया गया। थापरनगर रेलवे स्टेशन पर एमपीएल साइडिग के टेक आफ प्वाइंट से एमपीएल के सीईओ रमेश झा व रेल प्रोजेक्ट हेड सीबी सिंह ने हरि झंडी दिखाकर डीजल रेल इंजन को एमपीएल प्लांट के लिए रवाना किया। एमपीएल के सीईओ रमेश झा ने आसनसोल रेल मंडल के पदाधिकारियों, कर्मियों, आरपीएफ के अधिकारियों व जवानों, रेल प्रोजेक्ट समेत एमपीएल के अधिकारियों व कर्मियों को बधाई दी। रेल प्रोजेक्ट हेड सीबी सिंह ने भी सभी के प्रति आभार जताया।

कुछ दिन पहले ही एमपीए रेल लाइन थापरनगर रेलवे स्टेशन के टेक आफ प्वाइंट से कनेक्ट हुआ था और रेलवे की टीम ने टावर वैगन के माध्यम से विद्युत प्रणाली का निरीक्षण किया था। मौके पर एमपीएल के वरीय पदाधिकारी एमएस रहमान, डीके गंगलाल, तरुण चट्टोपाध्याय, काजल कुमार सिंह, रणधीर कुमार, अरविद यादव, संदीप खेडवाल, निलेश अंबर, रुपेश सिंह, सुब्रतो दत्ता, संजीव सिंहा, अजय कुमार, प्रशांत देशमुख, शिशिर सिंह, हरिशंकर सिंह, मनीष कुमार, फैज आलम ,विकास कुमार राजीव कुमार, अशोक साह आदि उपस्थित थे।

Edited By: Jagran