धनबाद, जेएनएन। 31 अक्टूबर को धनबाद-रक्सौल के बीच छठ स्पेशल ट्रेन चलेगी। धनबादवासी रन फॉर यूनिटी में शामिल होंगे। साथ ही राष्ट्रीय एकता की शपथ भी लेंगे। भाजपा विधायक इस बार दीवाली पर दिया बांटने से चूक गए। इसको लेकर सोशल मीडिया पर चर्चा शुरू हो गई है। इंडक्शन व्यवसायी ने काम से हटाया तो स्टाफ ने हत्या की साजिश रच दी। उपायुक्त ने मतदान केंद्रों पर एश्योर्ड मिनिमम फैसिलिटी उपलब्ध कराने का निर्देश दिया।

धनबाद-रक्सौल के बीच चलेगी छठ स्पेशल ट्रेन

छठ पर्व के मौके पर बिहार जाने वाली ट्रेनों में लंबी वेटिंग लिस्ट को देखते हुए रेलवे ने धनबाद-रक्सौल के बीच एक और छठ स्पेशल ट्रेन चलाने की घोषणा की है। छठ स्पेशल 31 अक्टूबर की शाम धनबाद से खुलेगी। इस ट्रेन के चलने से उत्तर बिहार जाने वाले हजारों यात्रियों को बड़ी राहत मिलेगी। इतना ही नहीं तीन नवंबर को छठ खत्म होने के बाद वापसी के लिए भी रक्सौल से धनबाद के बीच यह स्पेशल ट्रेन चलेगी।

रन फॉर यूनिटी में राष्ट्रीय एकता की शपथ लेंगे धनबादवासी

31 अक्टूबर को राष्ट्रीय एकता दिवस के अवसर पर सदभावना दौड़ का आयोजन किया जाएगा। शहर के रणधीर वर्मा चौक से शुरू होकर सिटी सेंटर होते हुए वापस रणधीर वर्मा चौक पर यह दौड़ समाप्त होगी। सुबह आठ से नौ बजे तक कार्यक्रम का आयोजन होगा। इसमें नगर निगम, पुलिस विभाग, जिला प्रशासन के सभी विभाग, स्कूल-कॉलेज के छात्र-छात्राएं समेत कुल छह हजार लोग शामिल होंगे।

दिवाली पर दीये की राजनीति, रवायत शुरू कर चूक गए भाजपा विधायक

धनबाद से भाजपा विधायक राज सिन्हा इस बार दीवाली पर दिया बांटने से चूक गए। हर बार दीपावली के मौके पर वें सवा लाख दीये बंटवाते थे। इस बार नहीं बंटवा पाए। अब ताजा चर्चा इसी को लेकर हो गई। लोग मान रहे हैं कि इस बार उन्हें टिकट मिलने में संशय है। लिहाजा उन्होंने दीये नहीं बंटवाए। सोशल मीडिया ऐसी चर्चाओं से भरा पड़ा है।

व्यवसायी ने काम से हटाया तो स्टाफ ने रच दी हत्या की साजिश

इंडक्शन चूल्हा व्यवसायी झाड़ूडीह निवासी प्रदीप झा की हत्या की साजिश उनके स्टाफ राकेश उर्फ बुलेट ने ही रची थी। व्यवसायी से नाराज बुलेट ने अपने तीन साथियों के साथ उन्हें लूटने और जान से मारने की साजिश रची थी। यह खुलासा बुलेट के पकड़े गए तीन साथियों ने किया। गिरफ्तार आरोपितों ने पुलिस को बताया कि बुलेट की प्रदीप झा से पुरानी अदावत थी। इसी कारण उसने उन्हें लूटने व जान से मारने की साजिश रची थी।

मतदान केंद्रों पर एश्योर्ड मिनिमम फैसिलिटी उपलब्ध कराने का निर्देश

आगामी विधानसभा चुनाव-2019 में मतदाताओं को मतदान करने में कोई परेशानी ना हो, इसके लिए जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त अमित कुमार ने सभी मतदान केंद्रों पर न्यूनतम सुविधाएं सुनिश्चित उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। उन्होंने बताया कि इस बार के चुनाव में विभिन्न कंपनियों के कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी (सीएसआर) के सहयोग से आदर्श मतदान केंद्र भी बनाए जाएंगे।

Posted By: Sagar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस