धनबाद, जेएनएन। मुख्यमंत्री रघुवर दास जोहार जन आशीर्वाद यात्रा के तहत 16 अक्टूबर को अपने दो दिवसीय यात्रा पर धनबाद आएंगे। मुख्यमंत्री के आगमन को लेकर जिला प्रशासन अपनी तैयारियों में जुट गया है।तेज रफ्तार बाइकर ने महिला सिपाही को धक्का मार घायल कर दिया। कैंसर पीड़ित आयुष जिंदगी का जंग हार गया। गिरोह बनाने को फेसबुक पर संवाद कर रहे कुछ युवकों को पुलिस ने चेतावनी देकर छोड़ दिया।

पांच साल की उपलब्धियां गिनाने 16 को धनबाद आएंगे सीएम रघुवर

मुख्यमंत्री रघुवर दास राज्य भर में जोहार जन आशीर्वाद यात्रा कर रहे हैं। इस यात्रा के दौरान वें राज्य की जनता को अपनी सरकार की पांच साल की उपलब्धियां गिना रहे हैं। साथ ही झारखंड के विकास के लिए डबल इंजन सरकार बनाने की अपील भी कर रहे हैं। इसी यात्रा के तहत मुख्यमंत्री 16 अक्टूबर को अपने दो दिवसीय यात्रा पर धनबाद आएंगे।

मुख्यमंत्री के दौरे को लेकर प्रशासन अलर्ट, डीसी ने की समीक्षा

मुख्यमंत्री के आगमन को लेकर जिला प्रशासन अपनी तैयारियों में जुट गया है। मुख्यमंत्री के संभावित रूट पर विशेष निगरानी की जा रही है। वहीं, सीएम के दौरे के दौरान धनबादवासियों को किसी तरह की परेशानी न हो इसका भी खास ख्याल रखा जा रहा है। उपायुक्त अमित कुमार ने रविवार को विधि व्यवस्था की समीक्षा बैठक की। इस दौरान सुरक्षा व्यवस्था औऱ ट्रैफिक की संभावित रूट को लेकर विशेष चर्चा की गई।

तेज रफ्तार बाइकर ने महिला सिपाही को मारा धक्का, जमकर हुई धुनाई

तेज रफ्तार बाइकर ने महिला सिपाही किरण को धक्का मार घायल कर दिया। महिला सिपाही को इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इधर लोगों ने पीछा कर बाइक सवार की पकड़कर पिटाई कर दी। इसके बाद पुलिस के हवाल कर दिया। वहीं, युवक ने पूछताछ में जानबूझ कर धक्का मारने से इन्कार किया है।

आखिर जिंदगी की जंग हार गया आयुष

धनबाद के पुराना बाजार में रहने वाले 12 वर्षीय आयुष का निधन हो गया। वह कैंसर पीड़ित था। उसकी जिंदगी के लिए पूरा धनबाद ईश्वर से दुआएं कर रहा था। सबको उम्मीद थी कि वह कैंसर से जंग जीतकर हंसते हुए नई उम्मीदों के साथ धनबाद लौटेगा, लेकिन लोगों की यह हसरत दम तोड़ गई। आयुष नहीं रहा। दरअसल कैंसर से जूझ रहे आयुष को डेंगू ने भी अपनी चपेट में ले लिया था।

फेसबुक पर हो रही थी अपराध की पढ़ाई, पुलिस ने चेतावनी देकर छोड़ा

आपराधिक गतिविधियों के कारण कुछ दिनों तक सुर्खियों में रहे सूरज का साथी सुजीत सिन्हा अपना गिरोह बनाकर कतरास कोयलांचल में पांव पसारने की कोशिश कर रहा था। लेकिन, फोन और फेसबुक पर हो रहे संवाद पर पुलिस की नजर पड़ गई और गिरोह बनाने की योजना सफल नहीं हुई। शुक्रवार को तेतुलमारी और आसपास के इलाके से आधा दर्जन से अधिक युवकों को पुलिस ने तेतुलमारी थाना लाकर पूछताछ की और चेतावनी देकर छोड़ दिया। इनमें से कई सूरज के करीबी रह चुके हैं तथा उससे जुड़े मामले में जेल भी जा चुका हैं।

Posted By: Sagar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस