जागरण संवाददाता, धनबाद। कोलकाता में कोल इंडिया की कार्यशाला कोल इंडिया लिमिटेड ने कोलकाता में व्यक्ति विकास , टेक बेस्ड हेल्थकेयर एंड डिजिटल सॉल्यूशंस फॉर माइनिंन पर कोल इंडिया 2022 कार्यशाला का आयोजन किया। कोल इंडिया चेयरमैन प्रमोद अग्रवाल सहित सीआईएल, कार्यात्मक निदेशक, सीवीओ, सीआइएल ने पारंपरिक दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यशाला का उद्घाटन किया। विनय रंजन, निदेशक (पी एंड आईआर), सीआइएल ने स्वागत भाषण दिया।

चेयरमैन प्रमोद अग्रवाल ने कहा कि चुनौतियां हर क्षेत्र में आती है और उन चुनौतियों का सामना करना चाहिए चुनौतियों से घबराकर भाग जाना अच्छी बात नहीं। सबसे बड़ी बात यह है कि सीखने की कोई उम्र नहीं होती । हम हर उम्र में हर नई चीज सीखते हैं । कार्यशाला से नई नई चीजें सीखने को मिलती है । साथी अपने आप में यह भी समझ पाते हैं कि हम कितने जानकार हैं । कहा की कोरोना के बाद हर कंपनी में इस तरह का कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा। तकनीकी निदेशक विनय दयाल ने कहा कि अनुभव के लिए प्रशिक्षण जरूरी है।

सीआइएल की विभिन्न सहायक कंपनियों के सीएमडी और निदेशकों ने भाग लिया। डॉ. सबहत एस. अजीम, सीईओ, ग्लोबल हेल्थकेयर सिस्टम्स प्रा। लिमिटेड ने यूएसए से ऑनलाइन कार्यशाला को संबोधित किया और प्रौद्योगिकी के माध्यम से स्वास्थ्य देखभाल वितरण परिवर्तन के महत्व को प्रदर्शित किया। प्रशिक्षण और विकास के बुनियादी ढांचे में सुधार के लिए आगे की राह" पर एक सत्र भी था। एक्सेंचर इंडिया के एमडी विनोद कुमार ने डिजिटल माइनिंग साल्यूशंस 4.0 - वे फॉरवर्ड के महत्व पर प्रकाश डाला। सीआइएल की सहायक कंपनियों के वरिष्ठ प्रबंधन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कार्यशाला में शामिल हुए। एसएन तिवारी, निदेशक मार्केटिंग, सीआईएल ने धन्यवाद ज्ञापन किया।

Edited By: Mritunjay