जागरण संवाददाता धनबाद : अब डिजिटल क्लास में एक स्मार्ट फोन से एक ही परिवार के अधिकतम पांच बच्चे डिजी स्कूल एप में रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे। इसके लिए विभाग ने डीजी एप को विकसित किया है। दरअसल बच्चों को आनलाइन क्लास में हो रही परेशानी को देखते हुए विभाग ने यह कदम उठाया है। इसके लिए बाकायदा स्कूल के शिक्षकों को तकनीकी जानकारी दी गई है, ताकि बच्चों तक भी यह जानकारी आसानी से पहुंच सके। राजकीयकृत मध्य विद्यालय धैया सहित अन्य विद्यालयों के छात्र-छात्राओं को गूगल मीट के माध्यम से एप की विस्तृत जानकारी वरीय शिक्षक राजकुमार वर्मा ने दी। जिससे बच्चे रजिस्ट्रेशन के साथ ई-कंटेंट और साप्ताहिक क्विज में हिस्सा ले सके। वर्मा ने बताया कि यह एप बच्चों के आनलाइन पढ़ाई को काफी सुलभ और आसान बना देगा। उन्होंने बताया कि सबसे अधिक परेशानी उन अभिभावकों को हो रही थी, जिनके घर में एक से अधिक बच्चे आनलाइन क्लास कर रहे हैं और उनके पास एक ही स्मार्ट फोन था। अब उन्हें इस परेशानी से मुक्ति मिल जाएगी।

------------------------

सीधे मुख्यालय से जुड़ेंगे बच्चे

इस एप का उपयोग करने के लिए सबसे पहले बच्चों को गूगल प्लेस्टोर में जाकर झारखंड डिजी स्कूल एप को अपडेट कर इंस्टाल करना होगा। उसके बाद एप खुलते ही इंटर फेस दिखेगा। उसमे मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की तस्वीर दिखाई देगी। उसे स्किप करने पर स्टूडेंट्स स्टडी मटेरियल आएगा। फिर तीन बटन को टच कर निबंधन की प्रक्रिया की जाएगी। पुराने यूजर के लिए हल्का हरा रंग में, जिन बच्चों ने निबंधन करा लिया है उनके लिए हल्का भूरा रंग और नए निबंधन के लिए हल्का केसरिया रंग का संकेत दिया हुआ था। इसके बाद छात्र अपना मोबाइल नंबर डालकर लागिन करेंगे। जिसके बाद उनके मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा। उस ओटीपी को डालकर आगे बढ़ेंगे। उसके बाद कम से कम छह डिजिट का पासवर्ड डालना होगा। पासवर्ड में कम से कम एक अल्फाबेट ए, बी, सी और गणित अंक 1, 2, 3, 4 में से कोई एक डालकर पासवर्ड बनाना होगा। उसके बाद फिर जिला का नाम, ब्लाक का नाम, स्कूल का नाम, क्लास, जेंडर, ई-मेल, अपने नाम के साथ अपनी तस्वीर देने के बाद अपडेट या रजिस्टर्ड करना होगा। इतना होने के बाद ही बच्चों को आनलाइन शिक्षा लाभ मोबाइल फोन में नियमित मिलता रहेगा। इस प्रक्रिया के बाद बच्चों को अब स्कूल के शिक्षकों पर ई-कंटेंट के लिए आश्रित नही होना पड़ेगा। वे सभी बच्चे सीधे राज्य मुख्यालय से जुड़ जाएंगे।

Edited By: Jagran