धनबाद, जेएनएन। जिले में दस दिनों में 649 लोगों को कुत्तों ने शिकार बनाया है। कुत्तों के शिकार कुल 1365 लोगों को पीएमसीएच में एक फरवरी से 12 फरवरी के बीच का एंटी रैबिज वैक्सीन (एआरवी) दिये गये हैं। इसमें 716 लोग पुराने हैं। दो दिनों तक छुïट्टी होने के कारण मात्र दस दिनों में काफी अधिक मामले पीएमसीएच आने पर प्रबंधन भी हरकत में हैं। प्रबंधन के अनुसार अभी स्टॉप में वैक्सीन हैं। बता दें कि कुत्ते के काटने के बाद चार बार एआरवी का वैक्सीन लेना पड़ता है।

हर चौक चौराहे पर कुत्तों का झुंड : धनबाद के हर चौक चौराहे पर कुत्तों का झुंड इन दिनों देखा जा सकता है। शहर के सीटी सेंटर, बिग बाजार, स्टील गेट, बैंक मोड़, पुराना बाजार, चिरागोड़ा इन दिनों सबसे खतरनाक जगह बने हुए हैं। रात दस बजे के बाद इस इलाके से पार होने पर दर्जनों कुत्तों के झुंड राहगीर पर हमला कर दे रहे हैं।

नगर निगम सुस्त : शहरवासी कुत्तों के आतंक से परेशान है। वहीं दूसरी ओर नगर निगम प्रबंधन इसको लेकर उदासीन बना हुआ है। दरअसल, निगम की ओर से ऐसे आवारा कुत्तों के लिए डॉग स्कैचर की प्लानिंग थी, लेकिन यह योजना तीन वर्षों में अभी तक धरातल पर नहीं उतरा है। 

Posted By: Sagar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस