धनबाद, जेएनएन। सेल (Steel Authority of India) के स्वतंत्र निदेशक डॉक्टर समर सिंह ने बताया कि चंद्रयान-3 (Chandrayaan-3) के लिए सेल के सेलम प्लांट में स्टील बनना शुरू हो चुका है। सेल में ही बने स्पेशल क्वालिटी के स्टील का इस्तेमाल चंद्रयान-3 में भी किया जाएगा। बता दें कि भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के चंद्रयान मिशन- 02 (Chandrayaan Mission- 02) के लिए भी सेलम स्टील प्लांट ने ही स्पेशल क्वालिटी के स्टेनलेस स्टील की आपूर्ति की थी, जिसका इस्तेमाल चंद्रयान- 02 के क्रायोजेनिक इंजन (CE-20) में किया गया है। 

इसरो ने चंद्रयान-3 की तैयारी शुरू कर दी है। ज्ञात सूत्रों के अनुसार, इसके लॉन्च होने में कम से कम तीन साल का समय लगेगा। वहीं, केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने भी कहा था कि भारत साल 2020 में चंद्रयान-3 को लॉन्च करेंगा। उन्होंने ये भी कहा था कि इस अभियान की लागत चंद्रयान-02 से कम आएगी। वहीं, कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि नवंबर 2020 के अंत तक चंद्रयान-3 को लॉन्च किया जा सकता है।

सेल के स्वतंत्र निदेशक डॉक्टर समर सिंह शनिवार को चासनाला आए थे। यहां उन्होंने चासनाला कोयला खदान का मुआयना किया। साथ ही उन्होंने कहा कि सेल के कर्मचारी से लेकर अफसर तक का वेतन संशोधन भी जल्द किया जाएगा। कंपनी का शीर्ष प्रबंधन इस पर संजीदा है। उन्होंने कहा कि 27 जनवरी को निदेशक मंडल की बैठक होनी है, जिसमें तासरा परियोजना की फाइल भी पेश की जाएगी। उन्होंने कहा कि तासरा ओपन कास्ट परियोजना जल्द शुरू की जाएगी। उम्मीद है कि इसी माह खदान की लीज मिल जाएगी।

Posted By: Sagar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस