धनबाद : कोल व स्टील के संसदीय स्थायी समिति के अध्यक्ष सांसद प्रो. चिंतमणि मालवीय कोल सेक्टर में काम करने के तरीके व श्रमिकों को स्थिति को लेकर कोल कंपनियों के दौरे पर हैं। बीसीसीएल के बाद उन्होंने कोल इंडिया मुख्यालय कोलकाता का दौरा किया, जहां चेयरमैन अनिल कुमार झा ने उनका स्वागत किया। वहां टाटा मेडिकल सेंटर कोलकाता के कैंसर रोगियों के लिए आवासीय सुविधा से रूबरू हुए। प्रेमश्री में रहने वाले बच्चों से भी मिले। सांसद ने शनिवार को दैनिक जागरण से फोन पर बातचीत में बताया कि अग्नि प्रभावित क्षेत्र में रह रहे लोगों का जीवन बहुत कठिन है। उन्हें सुरक्षित स्थान पर जल्द से जल्द शिफ्ट करने की जरूरत है। बताया कि दौरे के क्रम में झरिया में आग की स्थिति देख भौंचक रह गये। वहां के लोगों को दूसरे स्थान पर बसाने की व्यवस्था हो रही है। सरकार उन्हें मकान व मुआवजा दे रही है, लेकिन वे जा नहीं रहे है। कहा कि झरिया पुनर्वास में तेजी लाने की जरूरत है। जो पैकेज दिए गए हैं उसकी क्या स्थिति इस पर भी विस्तार से रिपोर्ट मांगी गई है। आग पर काबू करने की तरीके पर होगा विचार : सांसद ने बताया कि दौरे के क्रम में देखा कि धनबाद की आग काफी भयावह है। इस पर कैसे लागू किया जाए इस पर भी विचार किया जाएगा। घाटे में है बीसीसीएल : उनका कहना था कि बीसीसीएल घाटे में है जबकि उसके पास कोकिंग कोल का भंडार है। देश को इस कोयले की जरूरत है। इसका उपयोग कैसे जाए, इस पर विचार किया जाएगा। खदानों में सुरक्षा का हो पुख्ता इंतजाम : कहा कि दौरे के क्रम मुनीडीह माइंस का भी निरीक्षण किया। देखा कि काफी कठिन है भूमिगत खदान में काम करना है। नई तकनीक के साथ सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम जरूरी है।