जागरण संवाददाता, धनबाद। सूर्य ग्रहण ( Solar Eclipse 2021) एक खगोलीय घटना है। यह हमेशा से उत्सुकता का विषय रहा है। इसी धार्मिक मान्यताएं भी हैं। खगोलशास्त्रियों को ग्रहण का बेसब्री से इंतजार रहता है। सूर्य ग्रहण हो या चंद्र ग्रहण, इसका समय आते ही वह इसे देखकर अध्ययन में जुट जाते हैं। साल 2021 का आखिरी सूर्य ग्रहण आज यानी 4 दिसंबर को लग रहा है। इसे लेकर खगोलशास्त्रियों से लेकर आम लोगों में काफी उत्सुकता है। आखिर क्यों लगता है सूर्य ग्रहण ? साल का आखिरी सूर्यग्रहण कितने से कितने बजे तक लगेगा ? ग्रहण, कहां आएगा नजर और कैसे देखा जा सकता है ? ऐसे ढेर सारे सवाल लोगों के मन में उठ रहे हैं। इन सवालों का जवाब है

सूर्यग्रहण क्यों होता है?

आपके भी ज़हन में सवाल आता होगा कि आखिर सूर्य ग्रहण क्यों होता है तो आप लोगों की जानकारी के लिए बता दें कि जब चंद्रमा पृथ्वी और सूर्य के बीच आता है और पृथ्वी पर अपनी छाया डालता है। जब ऐसा होता है तो सूर्य से आने वाली रोशनी को चंद्रमा बीच में ही रोक लेता है और रोशनी धरती तक नहीं पहुंच पाती है और इसे ही सूर्य ग्रहण कहते हैं।

सूर्य ग्रहण का समय

आप लोगों की जानकारी के लिए बता दें कि साल का आखिरी सूर्य ग्रहण 4 घंटे 8 मिनट तक रहेगा। दोपहर 12.30 बजे से शुरू होकर दोपहर 1:03 बजे अपने चरम पर पहुंच जाएगा। आंशिक सूर्य ग्रहण सुबह 10:59 बजे से शुरू होगा और दोपहर 12:30 बजे तक चलेगा और दूसरा दोपहर 01:33 बजे से शुरू होगा और 03:07 बजे समाप्त होगा।

यह भी पढ़ें- Surya Grahan 2021: थोड़ी देर में लगेगा इस साल का अंतिम सूर्य ग्रहण, जानें टाइम और सूतक काल का प्रभाव

क्या भारत में दिखेगा ?

आप लोगों के भी ज़हन में सवाल आ रहा होगा कि क्या 2021 की आखिरी सूर्य ग्रहण भारत में नजर आएगा या नहीं तो बता दें कि इसे भारत में नहीं देखा जा सकेगा। बता दें कि दक्षिण अफ्रीका और नामीबिया के कुछ हिस्सों में आंशिक सूर्य ग्रहण दिखाई देगा।

यह भी पढ़ें- Chandra Grahan 2021: आज साल का आखिरी चंद्रग्रहण, जानें भारत में कहां-कहां दिखेगा और इसका सूतक

नंगी आंखों से न देखें सूर्य ग्रहण

नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन के मुताबिक, इच्छुक लोग जो सूर्य ग्रहण देखना चाहते हैं वह नासा  की आधिकारिक वेबसाइट और यूट्यूब चैनल पर लाइव स्ट्रीम देख सकते हैं। लाइव स्ट्रीमिंग भारतीय समयानुसार दोपहर 12 बजे से शुरू होने की उम्मीद है और दोपहर 2:07 बजे समाप्त होगी। धनबाद के आइआटी-आइएसएम में भी सूर्यग्रहण को देखने की खास व्यवस्था की गई है। हालांकि यह व्यवस्था आम लोगों के लिए नहीं है। छात्र और विज्ञानी देख सकते हैं। 

Edited By: Mritunjay