झरिया-अलकडीहा, जेएनएन : धनबाद जेल में बंद कुख्यात गैंग स्टर शूटर अमन सिंह के गुर्गा आनंद वर्मा ने जीनागोरा निवासी झामुमो नेता विकास महतो को बंगाल के सिम का उपयोग कर रंगदारी मांग धमकी दी थी। लोदना क्षेत्र के दबंग भाजपा नेता सतीश महतो के भाई झामुमो असंगठित मजदूरों के नेता विकास ने जेल से आनंद की ओर से रंगदारी मांगने व धमकाने के बाद अलकडीहा ओपी में शिकायत की है।

अलकडीहा ओपी पुलिस बंगाल के मोबाइल सिम का आनंद ने कैसे इस्तेमाल किया। इसकी पड़ताल में लग गई है। मामले में अलकडीहा पुलिस बंगाल पुलिस का भी सहयोग ले रही है। अमन गैंग के गुर्गे का शरण स्थल अलकडीहा क्षेत्र में होने के मामले सामने आने के बाद स्थानीय पुलिस के हाथ-पांव फूलने लगे हैं।

आनंद के पहले सुदामडीह निवासी आउटसोर्सिंग प्रबंधक पर हुए जानलेवा हमले में अमन गैंग के जिस राजा हाड़ी अपराधी का नाम सामने आया था। वह भी अलकडीहा ओपी क्षेत्र के ईस्ट बरारी का रहनेवाला है।

पुलिस उसकी खोजबीन में जुटी ही थी कि तब तक आनंद की ओर से विकास को दी गई धमकी ने पुलिस की नींद हराम कर दी है । ओपी प्रभारी आरके शर्मा ने मामले की गंभीरता को देखते हुए घटना की जानकारी एसएसपी और एसपी को देकर जांच की कवायद में जुटे हैं ।

हालांकि अलकडीहा ओपी पुलिस 24 जनवरी को साउथ तिसरा कांटा घर के पास से नाटकीय ढंग से आनंद को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था । आनंद की गिरफ्तारी के बाद उसकी निशानदेही पर ही धनबाद में रेलवे के एक बंद क्वार्टर से लगभग एक दर्जन बम सहित बड़ी मात्रा में विस्फोटक पदार्थ पुलिस ने जब्त की थी । आनंद के खिलाफ जिले कई थानों में लगभग एक दर्जन लूट, डकैती, चोरी, छिनतई, दंगा भड़काने, रंगदारी जैसे आपराधिक मामले दर्ज है। आनंद को शक है कि उसकी गिरफ्तारी विकास की रेकी पर ही पुलिस ने की थी। इसके कारण आनंद ने जेल से विकास को मोबाइल से पिछ्ले दिनों धमकी देकर रंगदारी मांगी थी। अलकडीहा ओपी पुलिस गंभीरता से मामले की पड़ताल कर रही है।

Edited By: Atul Singh