धनबाद, जेएनएन। झारखंड एकेडमिक काउंसिल की 10वीं और 12वीं की परीक्षा मंगलवार से शुरू हो गई। पहले दिन दसवीं में वाणिज्य और गृह विज्ञान और इंटर में वोकेशनल विषयों की परीक्षा हो रही है। दोनों ही विषयों में छात्र काफी कम हैं।

दसवीं की परीक्षा 20 केंद्रों और 12वीं की परीक्षा 9 केंद्रों पर हो रही है। दसवीं में 400 तो 12वीं में 150 छात्र इनरोल हैं। डीईओ अलका जायसवाल के अनुसार परीक्षा शांतिपूर्ण ढंग से चल रही है। कहीं से किसी तरह के कदाचार की सूचना नहीं मिली है। एक-दो परीक्षा केंद्रों पर प्रश्न पत्र जरूर देरी से पहुंचा, हालांकि इसके लिए छात्रों को अतिरिक्त समय दिया गया।

जैक की माध्यमिक व इंटर की परीक्षा मंगलवार से शुरू हुई। परीक्षा को कदाचारमुक्त बनाने के लिए पूरी तैयारी की गई है। उपायुक्त अमित कुमार शनिवार को हुई बैठक में कर माध्यमिक-इंटरमीडिएट परीक्षा 2020 के संचालन के सभी केंद्र अधीक्षक, संचालकों को हर हाल में कदाचार मुक्त परीक्षा लेने का निर्देश दिया था। वहीं परीक्षा कदाचार मुक्त हो, इसके लिए जिला प्रशासन द्वारा हर केंद्र पर एक स्टैटिक दल व जोन के अनुसार पेट्रोलिंग दल प्रतिनियुक्ति किया गया है। केंद्र संचालकों को बताया गया की परीक्षा केंद्र परिसर के अंदर एवं बाहर सफाई की पूरी व्यवस्था हर दिन करनी है। सभी केंद्रों पर अधीक्षक को परिसर में बिजली आपूर्ति, रोशनी और सीसीटीवी कैमरा के साथ मॉनिटर सेट का संचालन एवं रिकॉर्डिंग अनिवार्य रूप से सुनिश्चित करना है। 

153 सेंटर पर 55 हजार छात्र देंगे परीक्षा 

माध्यमिक व इंटर परीक्षा के लिए जिले में कुल 153 सेंटर बनाए गए हैं। जिसमें माध्यमिक परीक्षा के लिए 86 तथा इंटर के लिए 67 परीक्षा केंद्र बनाया गया है। पहले दिन मंगलवार को मैट्रिक परीक्षा के पहले दिन वाणिज्य और गृह विज्ञान और इंटर के लिए पहले दिन वोकेशनल पेपर की परीक्षा हुई। झारखंड एकेडमिक काउंसिल (जैक) ने मैट्रिक एवं इंटर कला, विज्ञान व वाणिच्य की परीक्षा का विस्तृत कार्यक्रम पूर्व में ही जारी कर दिया था। दोनों परीक्षाएं 28 फरवरी तक होगी। मैट्रिक की परीक्षा पहली पाली में होगी वहीं इंटर कला, विज्ञान व वाणिज्य की परीक्षा दूसरी पाली में होगी। 

जांच के बाद ही प्रवेश 

मुख्य द्वार पर प्रवेश पत्र और उसपर लगे फोटो से मिलान तथा बॉडी सर्च के बाद ही परीक्षा कक्ष में जाने की अनुमति मिलेगी। कोई परीक्षार्थी और वीक्षक परीक्षा हॉल में मोबाइल या अन्य इलेक्ट्रॉनिक गैजेट नहीं ले जा सकते हैं। मजिस्ट्रेट और पुलिस जवानों की निगरानी में प्रश्न पत्र व उत्तर पुस्तिकाओं को वज्र गृह से परीक्षा केंद्रों तक ले जाया जायेगा। प्रत्येक केंद्र पर सीसीटीवी कैमरा को क्रियाशील कर दिया गया है।  

Posted By: Mritunjay

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस