बोकारो, बीके पाण्डेय : सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनीस्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) ने आज 10 जून को वित्त वर्ष 2020-21 (वित्तवर्ष’21) की चौथी तिमाही के साथ–साथ वार्षिक वित्तीय परिणामों की घोषणा कर दिया है। सेल ने कोविड -19 महामारी के चलते पैदा हुई चुनौतियों का सामना करते हुए आपद को अवसर में बदला और 3850 करोड़ का शुद्ध मुनाफा कमाया।

वैसे तो कंपनी को कर पूर्व लाभ 6878.03 करोड़ हुआ है। पर कर देने एवं अन्य देनदारियों को चुकता के करने बाद कंपनी 3850.02 का मुनाफा हुआ है। जारी वित्तीय परिणाम में सबसे बड़ी हिस्सेदारी बोकारो स्टील की रही है। बोकारो ने लगभग 2251 करोड़ रुपये कर पूर्व लाभ कमाया है। यदि इसमें से कर अन्य देनदारियों को हटा दे तो लगभग 1265 करोड़ का शुद्ध मुनाफा बोकारो स्टील को हुआ है।

खास बात यह है कि इस मुनाफे में बोकारो स्टील द्वारा विदेशों को बेचा गया स्टील है। बीएसएल ने देश की जरूरतों को पूरा करने के साथ-साथ चीन सहित कई देशों को 332818 टन इस्पात निर्यात की, जबकि यूरोपीय बाज़ार में इटली को पहली बार सीई मार्क सर्टिफिकेशन के साथ 12436 टन इस्पात आपूर्ति किया है। बोकारो स्टील ने गत वर्ष की तुलना में अपने उत्पादों के निर्यात में 68 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की है। खास बात यह है कि राउरकेला दूसरे व भिलाई तीसरे नंबर पर रहें हैं। मुनाफे के साथ इस बात की संभावना बढ़ गई है कि कंपनी अपने कर्मचारियों को वेतन पुनरिक्षण के लंबित मांग को जल्द पूरा करे।

सेल अध्यक्ष ने टीम सेल पर जताया भरोसा 

गत वित्तीय वर्ष के शानदार प्रदर्शन पर सेल अध्यक्ष श्रीमती सोमा मंडल ने कहा,कंपनी ने वित्तवर्ष 2020-21 के दौरान उत्पादन और वित्तीय प्रदर्शन में एक साथ बढ़ोतरी दर्ज की है। टीम सेल ने कोविड-19 महामारी, खासतौर पर वित्तवर्ष’21 की पहली छमाही के दौरान पैदा हुई गंभीर और अप्रत्याशित चुनौतियों के बावजूद पूरी प्रतिबद्धता और एकजुटता के साथ काम किया है।

दूसरी छमाही में आर्थिक गतिविधियों में सुधार के चलते स्टील की मांग में उछाल देखने को मिला। सरकार द्वारा बुनियादी ढांचे पर खर्च पर जोर देने की वजह से, कंपनी ने परिचालन दक्षता में सुधार के साथ-साथ बाज़ार की मांग के अनुरूप उत्पादों को बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित किया, जिससे कंपनी को उल्लेखनीय प्रदर्शन करने में मदद मिली। कहा कि देश कोविड -19 की दूसरी लहर का सामना कर रहा है और हम चुनौतियों का सामना करने और अपने प्रदर्शन की गति बनाए रखने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं। हमारी प्राथमिकता बाजार की आवश्यकताओं के अनुरूप मूल्य-संवर्धित (वैल्यू-ऐडेड) उत्पादों की हिस्सेदारी बढ़ाने पर जोर देने के साथ-साथ, संगठन की कार्यप्रणाली को और बेहतर बनाने की है।

वित्त वर्ष 2020- 21 के वित्तीय परिणाम की प्रमुख विशेषताएं

  1. वित्तवर्ष’21 के दौरान एबिटडा (EBITDA) 13740 करोड़ रुपये और कर चुकाने के बाद शुद्ध लाभ 3850 करोड़ रुपये
  2. वित्तवर्ष’21 की चौथी तिमाही के दौरान एबिटडा 6473 करोड़ रुपये और कर चुकाने के बाद शुद्ध लाभ 3444 करोड़ रुपये
  3. वित्तवर्ष’21 के दौरान कंपनी की शुद्ध उधारी (Non-IndAS) 16,131 करोड़ रुपये कम होकर, 35,350 करोड़ रुपये (31 मार्च, 2021 के अनुसार) पर आ गई।
  4. कंपनी ने पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि के मुक़ाबले, वित्तवर्ष’21 की चौथी तिमाही के दौरान 8% की वृद्दि के साथ 49.8 लाख टन हॉट मेटल, 6% की वृद्धि के साथ 45.6 लाख टन क्रूड स्टील और 11% की वृद्दि के साथ 44.2 लाख टन सेलेबल स्टील का उत्पादन किया है। उल्लेखनीय है कि चौथी तिमाही के दौरान हॉट मेटल, क्रूड स्टील और सेलेबल स्टील का यह उत्पादन अब तक के किसी भी तिमाही का सर्वाधिक है।
  5.  कंपनी ने वित्तवर्ष’21 के दौरान अब तक के किसी साल का सर्वश्रेष्ठ विक्रय 149.4 लाख टन दर्ज किया है, जो पिछले वित्त वर्ष की इस अवधि के मुक़ाबले 5% अधिक है।
  6. कंपनी ने वित्तवर्ष’21 की चौथी तिमाही के दौरान अब तक के किसी भी तिमाही का सर्वश्रेष्ठ विक्रय 43.5 लाख टन दर्ज किया है, जो पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि के मुक़ाबले 16% अधिक है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप