तिसरा : प्रदूषण पर रोक लगाने, नार्थ तिसरा-जयरामुपर मार्ग पर नियमित पानी का छिड़काव, विस्थापन को आवास देने, पेयजल आदि समस्याओं के समाधान की मांग को लेकर बुधवार को जमसं कुंती गुट व कांग्रेस समर्थकों ने नार्थ तिसरा-जयरामपुर सड़क को चार घंटे तक गोल्डन पहाड़ी के समीप जाम कर प्रदर्शन किया। आंदोलन के कारण कोयला की ट्रांसपोíटंग बाधित रही। निजी वाहनों व बीसीसीएल की कोयला ढुलाई पर असर पड़ा। सूचना पाकर नार्थ तिसरा परियोजना के पीओ एसके सिन्हा, प्रबंधक डीके मांजी मौके पर पहुंचे। आंदोलनकारियों से बात की। आश्वासन दिया कि उनकी मांगों पर विचार किया जाएगा। इसके बाद सड़क जाम समाप्त हुआ। आंदोलनकारी भोला साहनी ने बताया कि परियोजना चलाने के कारण लोगों को गोकुलधाम में बसाया गया। यहां के लोग प्रदूषण की समस्या से परेशान हैं। पेयजल की घोर समस्या है। पेयजल व पिट वाटर नियमित नहीं मिल रहा है। सड़क खराब है। पानी का छिड़काव नहीं हो रहा है। कहा कि झरिया की विधायक पूíणमा नीरज सिंह को भी समस्याओं से अवगत कराया गया है। मांगें पूरी नहीं हुई तो अनिश्चितकालीन चक्का जाम करेंगे। मौके पर धनंजय सिंह, रंजीत पासवान, मुन्ना, आलोक, राज, धर्मेंद्र, भवानी, अजय कुमार, विपिन, आदित्य आदि थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस