धनबाद : घने कोहरे ट्रेनों के पहिए बुरी तरह लड़खड़ा गए हैं। कोहरे की वजह से विजिबिलिटी इतनी कम हो गई है कि ट्रेनें बैलगाड़ी से भी धीमी रफ्तार से सरक रही हैं। सियालदह से नई दिल्ली जाने वाली राजधानी एक्सप्रेस शुक्रवार को घंटों लेट से नई दिल्ली पहुंची। इस वजह शाम में नई दिल्ली से सियालदह जाने वाली 12314 नई दिल्ली सियालदह राजधानी 2 घंटे लेट से खुली। रेलवे ने शाम 4:30 पर खुलने वाली ट्रेन के शाम 6:30 पर रवाना होने की सूचना जारी की। देर से खुलने के कारण शनिवार को लेट से धनबाद आएगी। इसी तरह रांची से (मुंबई) लोकमान्य तिलक तक जाने वाली साप्ताहिक ट्रेन 10 घंटे लेट से लोकमान्य तिलक पहुंची। इस वजह से लोकमान्य तिलक से खुलने वाली ट्रेन को रेलवे ने शाम 4:40 के बजाय देर रात 11:35 पर रवाना होने की सूचना जारी की। लोकमान्य तिलक से लेट खुलने की वजह से शनिवार को गोमो और बोकारो होकर चलने वाली 18610 एलटीटी-रांची एक्सप्रेस लेट से पहुंचेगी। राजधानी, दुरंतो और मुंबई मेल समेत ज्यादातर ट्रेनें लेट :

समूचे उत्तर भारत में घने कोहरे की वजह से शुक्रवार को धनबाद आने वाली ज्यादातर ट्रेनें लेट से आईं। इनमें नई दिल्ली हावड़ा राजधानी, नई दिल्ली सियालदह राजधानी, मुंबई मेल, दुरंतो समेत दूसरी महत्वपूर्ण ट्रेनें शामिल हैं। नई दिल्ली सियालदह राजधानी 3 घंटे 6 मिनट लेट, दिल्ली हावड़ा राजधानी 2 घंटे लेट, देहरादून एक्सप्रेस 1 घंटे 10 मिनट लेट, कालका से हावड़ा जाने वाली नेताजी एक्सप्रेस लगभग 3 घंटे लेट, बीकानेर सियालदह दुरंतो एक्सप्रेस लगभग 3 घंटे लेट और मुंबई से हावड़ा जाने वाली मुंबई मेल एक घंटे लेट से आई।

Edited By: Jagran