धनबाद [तापस बनर्जी]। हावड़ा से नई दिल्ली के बीच सेमी हाई स्पीड टे्रन चलाने के लिए रेलवे अब ट्रैक के दोनों किनारे पर चाहरदीवारी का निर्माण कराएगी। ग्रैंड कॉर्ड सेक्शन पर धनबाद से गया के बीच 200 किलोमीटर लंबी दीवार अलग-अलग जगहों पर बनेगी। इस प्रोजेक्ट के लिए रेल मंडल को 40 करोड़ की स्वीकृति मिल चुकी है। इससे न सिर्फ ट्रेनों की रफ्तार बढ़ाने में मदद मिलेगी बल्कि रेलवे लाइन के किनारे रेलवे की कीमती जमीन को अतिक्रमण से भी मुक्त कराया जा सकेगा।

क्यों होगा चाहरदीवारी निर्माणः धनबाद, वासेपुर, भूली से लेकर पूरे ग्रैंड कॉर्ड सेक्शन में रेलवे ट्रैक के किनारे अतिक्रमण कर झुग्गी-झोपड़ी से लेकर कंक्रीट के मकान तक निर्माण करा लिए गए हैं। शहर के रांगाटांड़ और आसपास के हिस्से में बड़े पैमाने पर रेलवे लाइन के आसपास खटाल बस चुके हैं। अन्य कई हिस्से में भी खटाल हैं जिनसे मवेशी अक्सर रेलवे ट्रैक पर आ जाते हैं। अभी तो कम स्पीड के कारण दुर्घटना कम होती है। पर जब सेमी हाई स्पीड टे्रनें पटरी पर उतरेंगी तो ऐसी दुर्घटनाओं की संभावना बढ़ जाएगी। यही वजह है कि रेलवे ने टे्रनों की गति बढ़ाने से पहले ट्रैक को दोनों ओर से सुरक्षित करने का निर्णय लिया है। 

रेलवे बोर्ड ने धनबाद से गया के बीच अलग-अलग हिस्से में चाहरदीवारी निर्माण कराने के लिए योजना को स्वीकृति दे दी है। जल्द से जल्द काम शुरू कराने का प्रयास है।

-अनिल कुमार मिश्रा, डीआरएम

Posted By: Mritunjay

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप