संवाद सहयोगी, गोड्डा। गोड्डा स्टेशन से रेलवे को पिछले तीन माह में लगभग 44 लाख का राजस्व मिला है। इस दौरान 43 हजार से अधिक यात्रियों ने गोड्डा से ट्रेन से सफर किया। इसके चलते हंसडीहा स्टेशन भी राजस्व बढ़ा रहा है। सुविधा बढऩे के साथ अब गोड्डा स्टेशन से रेलवे यात्री संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। गोड्डा से खुलने वाली भागलपुर व दुमका जसीडीह ट्रेन में अच्छी तादाद में यात्री सफर कर रहे है। इस बात को रेल प्रशासन मान रहा है कि शुरुआती दिन में यह संख्या काफी कम थी। इसी साल 8 अप्रैल, 2021 को गोड्डा रेलवे स्टेशन से पहली बार रेल परिचालन शुरू हुआ। 

रेल सेवा शुरू होने से गोड्डा के लोग खुश

गोड्डा से दुमका के लिए इंटरसिटी पकडऩे जा रहे सज्जाद ने कहा कि ट्रेन की यात्रा बेहद सकून दे रही है। पहले इस ट्रेन को पकडऩे के लिए बस की सफर करते थे। स्टेशन पहुंचे पंकज कुमार ने कहा कि वे बराबर अपने काम से महीने में चार से पांच दिन दुमका आते जाते है। लेकिन अब समय को एडजस्ट कर ट्रेन से ही सफर कर रहे है। सुबह छह बजकर पांच मिनट पर गोड्डा से भागलपुर ट्रेन से हंसडीहा उतरते हैं। दुमका के लिए पहले लोकल व इसके बाद कविगुरु एक्सप्रेस मिल जाती है। किराया भी 20 रुपये ही है। इधर लोग अब गोड्डा से हावड़ा ट्रेन की मांग कर रहे। ताकि व्यापारी वर्ग सहित आम लोगों को सहुलियत हो सके। वही संभावना जताई जा रही है कि प्लेटफार्म नंबर तीन व चार का काम पूरा होने के बाद यात्री ट्रेन की संख्या और बढ़ेगी। रेल प्रशासन गोड्डा से हावड़ा व दुमका इंटरसिटी के गोड्डा तक एक्सटेंशन पर विचार कर रहा है।

फिलहाल गोड्डा से छह ट्रेनों का हो रहा परिचालन

रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार सितंबर माह में गोड्डा स्टेशन से 14726 लोगों ने यात्रा की इससे रेलवे को 17 लाख 38 हजार 715 रूपये का राजस्व मिला जबकि अक्टूबर माह में 16876 लोगों ने यात्रा कि इससे रेलवे को 15 लाख 37 हजार राजस्व का मिला है। नवंबर माह में लगभग12 लाख राजस्व मिला है। इस बाबत पूर्व रेलवे मालदा डिवीजन के सीनियर डीसीएम पवन कुमार ने कहा कि रेलवे इसका आकलन कर रहा है। यात्री सुविधा बढ़ाना पहली प्राथमिकता है। प्लेटफार्म बढऩे से कुछ गाड़ी बढ़ सकती है। पार्सल सेवा भी उपलब्ध है। गोड्डा स्टेशन से चार पैसेंजर ट्रेन व दो मेल एक्सप्रेस ट्रेन का परिचालन हो रहा है।

Edited By: Mritunjay