धनबाद [ दैनिक जागरण ]: रेल यात्रियों को उनके गंतव्य तक सुरक्षित पहुचाना रेल प्रशासन की जिम्मेवारी है। इसके लिए राजकीय रेल पुलिस गंभीर है। पहले की अपेक्षा रेल में अपराध का ग्राफ गिरा है लेकिन कुछ ट्रेनों और चिह्नित जगहों पर आपराधिक गतिविधि जारी हैं। रेल पुलिस इसकी निगरानी कर रही है। अपराधियों से निपटने के लिए स्पेशल टास्क फोर्स की ड्यूटी लगाई गयी है। यह बातें रेल डीआइजी नागेंद्र चौधरी ने धनबाद परिसदन में पत्रकारों से बातचीत के दौरान कही। उन्होंने कहा वर्तमान में कोई भी मामला लंबित नहीं है। थानों में दर्ज होने वाले शिकायतों पर तत्काल कार्रवाई कर केस का डिस्पोजल किया जा रहा है। सुरक्षा बलों की कमी पर कहा कि पिछले दिनों 300 की बहाली हुई है। रेलवे में अब सुरक्षा बलों की कमी नहीं होगी। रेल थानों को चाइल्ड फ्रेंडली बनाने को लेकर कहा कि इसकी प्रक्रिया जारी है।

डीआइजी ने कहा कि किसी भी तरह की शिकायत करने थाना पहुचने वालों से मित्रतापूर्ण व्यवहार करने पर पदाधिकारी जोर दें। इसके लिए पहले ही आवश्यक दिशा-निर्देश दिए जा चुके हैं। डीआइजी चौधरी शुक्रवार को धनबाद निगरानी कोर्ट में एक केस के सिलसिले में गवाही देने पहुंचे थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप