धनबाद, जेएनएन। Rail Union Recognition Election 2020 रेलवे में यूनियन की मान्यता को लेकर चुनाव का शंखनाद हो चुका है। चार-पांच दिसंबर को रेलवे यूनियन की मान्यता चुनाव लगभग तय माना जा रहा है।  धनबाद रेल मंडल ने इस चुनाव में भाग लेनेवाले कर्मचारियों की सूची जारी कर दी है, जिनमें 21647  कर्मचारी शामिल हैं। 30 सितंबर तक रेलसेवा से जुड़ चुके कर्मचारी ही मतदाता होंगे। इसके बाद यानी अक्टूबर में रेलकर्मी बनने वालों को मतदान की अनुमति नहीं दी जाएगी।

पूर्व मध्य रेल मुख्यालय ने मतदाता सूची धनबाद रेल मंडल की वेबसाइट पर अपलोड कर दिया है। सभी विभागीय अधिकारियों को सूची का मिलान करने का निर्देश दिया गया है। इसमें किसी तरह की विसंगति होने पर 29 अक्टूबर तक कार्मिक विभाग में बने यूनियन शाखा को सूचना देनी होगी।  अगर किसी कर्मचारी को अपने नाम या अन्य कोई संशोधन कराना है तो न्‍हें तीन नवंबर तक इसका मौका मिलेगा। चार नवंबर तक इसका निष्पादन कर लिया जाएगा। पांच नवंबर को रेलवे फाइनल वोटर लिस्ट जारी करेगी।

यूनियनों की बढ़ी सक्रियता

चुनाव की तैयारियां शुरू होते ही यूनियनें सक्रिय हो गई हैं। धनबाद समेत पूर्व मध्य रेल के सभी मंडलों से चुनाव लड़ने के लिए ताल ठोंक रही हैं। दुर्गापूजा बोनस को लेकर सभी यूनियनों ने दावा शुरू कर दिया है। रेल कर्मियों से जुड़ी अन्य मांगों को भी जल्द पूरी कराने के दावे किए जा रहे हैं। इनमें रात्रि पाली भत्ता समेत अन्य मांगे शामिल हैं।

पिछले चुनाव में ईस्ट सेंट्रल रेलवे कर्मचारी यूनियन के सिर था ताज

इससे पहले 2013 में रेलवे यूनियन का चुनाव हुआ था। उस दौरान ईस्ट सेंट्रल रेलवे कर्मचारी यूनियन के सिर पर जीत का सेहरा बंधा था। 23612 मतों के साथ यूनियन ने जीत हासिल की थी। इस बार भी इस यूनियन के हौसले बुलंद हैं और पूरे दम-खम के साथ मैदान में उतरने की तैयारी कर रही है।  

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021