धनबाद, जेएनएन। पाै फटने के साथ ही गुरुवार को वासेपुर में दहशत ने दस्तक दी। जमीन कारोबारी शाहिद हुसैन घर के सामने की गली में जमीन पर लहूलुहान पड़ा मिला। पहले तो लोगों ने समझा कि शाहिद को 'गैंग्स ऑफ वासेपुर' ने शिकार बनाया है। इससे सनसनी फैल गई। लेकिन, पुलिस की जांच में कहानी पलट गई। इसके बाद माहाैल शांत हुआ। 

वासेेपुर के नवीनकर निवासी 30 वर्षीय शाहिद हुसैन अपने घर के सामने की गली में लहूलुहान पड़ा था। दूध देने वाला जब आया तो उसने देखा कि गली में शाहिद गिरा पड़ा है। उसने घर वालों की सूचना दी। इसके बाद आनन-फानन में शाहिद को उठाकर बीसीसीएल के केंद्रीय अस्पताल में भर्ती कराया गया। चिकित्सकों ने प्राथमिक इलाज के बाद दुर्गा के मिशन अस्पताल में रेफर कर दिया। उसकी स्थित गंभीर है। 

इसके बाद तेजी यह खबर फैली कि शाहिद पर गैंग्स ऑफ वासेपुर ने जानलेवा हमला किया है। गोली उसके  सिर पर मारी गई है। सूचना मिलते ही धनबाद के डीएसपी विधि व्यवस्था (विधि-व्यवस्था) मुकेश कुमार और बैंक मोड़ थाना प्रभारी सुरेंद्र सिंह नवीनगर पहुंचे और परिजनों से घटना की जानकारी प्राप्त कर तफ्तीश शुरू की। इस मामले में पुलिस ने पड़ोस की लड़की को बुलाई। थाने में ले जाकर उससे पूछताछ की गई। इसके बाद नई कहानी सामने आई। 
पुलिस के अनुसार मामला प्रेम-प्रसंग का है। शाहिद ने खुद को गोली मार आत्महत्या करने की कोशिश की। दो साल पहले शाहिद की कोलकाता में शादी हुई थी। उसकी पत्नी कोलकाता में ही रहती है। 

Posted By: mritunjay

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप