चंद्रपुरा, जेएनएन। दामोदर घाटी निगम (डीवीसी) कर्मचारी मानव बंदोपाध्याय की मेधावी बेटी प्रिया बंदोपाध्याय ने इंडियन आर्मी में मेडिकल ऑफिसर बनकर बोकारो की विद्युत नगरी चंद्रपुरा का नाम रौशन किया है। चंद्रपुरा में पली-बढ़ी प्रिया की दिली इच्छा डॉक्टर बनकर राष्ट्र सेवा करने की थी। प्रिया ने वर्ष 2021 में ऑर्म्ड फोर्सेज मेडिकल कॉलेज पुणे से एमबीबीएस कंप्लीट किया। आर्मी के बेस हॉस्पिटल दिल्ली में बतौर मेडिकल ऑफिसर पदभार ग्रहण किया। उनकी दिली तमन्ना सर्जन बनने की है । वह पढ़ाई में शुरू से ही मेधावी व प्रतिभावान रही हैं । वर्ष 2014 दसवीं की बोर्ड परीक्षा में वह 96.2 प्रतिशत अंक के साथ चंद्रपुरा डिनोबिली स्कूल टॉपर रहीं।

2016 में चंद्रपुरा केन्द्रीय विधालय से इंटर साइंस की बोर्ड परीक्षा में 95.4 प्रतिशत अंक के साथ रीजनल टॉपर रहीं। 2016 में नीट, झारखंड, पश्चिम बंगाल एवं एम्स के लिए कामयाबी हासिल की थी । इसी वर्ष राष्ट्रीय स्तर की सशस्त्र सेवा मेडिकल कॉलेज पुणे की चयन परीक्षा में 17वीं रैंक लाकर वहां दाखिला लिया । उनेके पिता मानव बंदोपाध्याय डीवीसी में कंट्रोलर हैं । उनका तबादला हाल ही में चंद्रपुरा थर्मल से आरटीपीएस हुआ है। उनकी माता जोबा बंदोपाध्याय गृहिणी हैं । प्रिया ने अपनी सफलता का श्रेय अपने गुरुजन एवं माता-पिता को देते हुए कहा कि जीवन में सपना साकार होने तक नींद न आए। ऐसा ही सपना हर युवा को देखना चाहिए। उसे आर्मी में बतौर मेडिकल ऑफिसर देश सेवा करने पर गर्व है ।

Edited By: Mritunjay