धनबाद : भाजपा के खिलाफ एकजुट विपक्ष दलों ने सोमवार को रणधीर वर्मा चौक पर भूमि अधिग्रहण संशोधन विधेयक रद करने की मांग को लेकर रणधीर वर्मा चौक पर महाधरना दिया। महाधरना में झामुमो, कांग्रेस, राजद, मासस, झाविमो, भाकपा माले, सीपीएम समेत अन्य विपक्षी पार्टियों के नेताओं व समर्थकों ने बढ़चढ़कर भाग लिया। मासस विधायक अरुप चटर्जी, पूर्व राजद मंत्री आबो देवी, पूर्व झामुमो मंत्री मथुरा प्रसाद महतो, झाविमो के पूर्व मंत्री डॉ. सबा अहमद, झामुमो जिलाध्यक्ष रमेश टुडू, झाविमो जिलाध्यक्ष ज्ञानरंजन सिन्हा, कांग्रेस के कार्यकारी जिलाध्यक्ष रवींद्र वर्मा व शंकर प्रजापति, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य संतोष कुमार सिंह, राजद जिलाध्यक्ष अवधेश कुमार, मासस जिलाध्यक्ष हरी प्रसाद पप्पू आदि ने शिरकत की। महाधरना द्वारा संयुक्त विपक्ष ने भूमि अधिग्रहण संशोधन विधेयक अविलंब रद करने की मांग उठाई। धरना समाप्ति के बाद पांच सदस्यी प्रतिनिमंडल ने एडीएम विधि व्यवस्था राकेश दुबे को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा। धरना के दौरान पांच जुलाई को झारखंड बंद को सफल बनाने का निर्णय लिया गया।

इससे पहले महाधरना को संबोधित करते हुए निरसा विधायक अरूप चटर्जी ने कहा कि लोकसभा व विधानसभा में बहस के बिना भूमि अधिग्रहण संशोधन विधेयक को सहमति देना लोकतंत्र की हत्या है। संपूर्ण विपक्ष इस बात को बताने के लिए एक साथ सड़क पर उतरी है जिसका खमियाजा भाजपा को आने वाले चुनाव में भुगतना पड़ेगा। पूर्व मंत्री डॉ. सबा अहमद ने कहा कि कॉर्पोरेट घरानों को फायदा पहुंचाने के लिए सरकार ने इस विधेयक को बिल पास किया है। पूर्व विधायक आनंद महतो ने कहा कि रघुवर सरकार को किसानों की कोई चिंता नहीं है। इस बिल का सीधा असर किसानों पर पड़ेगा। पूर्व मंत्री मथुरा प्रसाद महतो ने कहा कि मुख्यमंत्री रघुवर दास ने पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए विधेयक को जबरन पारित करवाया है। पूर्व मंत्री आबो देवी ने कहा कि अपनी मांगों को लेकर यह लड़ाई जारी रहेगी। अखिल भारतीय काग्रेस कमेटी के सदस्य संतोष कुमार सिंह ने कहा कि झारखंड सरकार जन विरोधी है। सरकार जबतक भूमि अधिग्रहण संशोधन विधेयक वापस नहीं लेती आंदोलन जारी रहेगा। धरना की अध्यक्षता झामुमो जिलाध्यक्ष रमेश टुडू ने की। संचालन झाविमो जिलाध्यक्ष ज्ञानरंजन सिन्हा और धन्यवाद ज्ञापन कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष रवींद्र वर्मा ने किया। धरना में हलधर महतो, अभिजीत राज, शमशेर आलम, लक्ष्मी महतो, फातिमा अंसारी, पवन महतो, राजीव शर्मा, संजय महतो, कंसारी मंडल, योगेंद्र यादव, सरोज सिंह, सुखदेव विद्रोही, हातिम अंसारी, सुरेश पासवान, केपी यादव, गुणवंत राय मेहता, निताई महतो, देबू महतो, दुर्योधन चौधरी, रतिलाल टुडू, बीके सिंह, मदन महतो, पंकज मिश्रा, योगेंद्र सिंह योगी, उदय शर्मा, फिरोज रजा कुरैशी, नकुलदेव सिंह समेत काफी संख्या में लोग उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस