झरिया, जेएनएन। नार्थ तिसरा में वर्चस्व को लेकर शनिवार को रघुकुल व सिंह मेंशन समर्थकों में हुई हिंसक झड़प, मारपीट, पत्थरबाजी व गोलीबारी के बाद पुलिस रेस हो गई है। रविवार को भी दोनों गुटों में तनाव देखा गया। कंपनी का काम चालू है। थाना में मामला दर्ज होने के बाद पुलिस आरोपितों को पकडऩे के लिए छापेमारी कर रही है। तिसरा थाना प्रभारी ने 10 नामजद सहित रघुकुल व सिंह मेंशन ढाई सौ अज्ञात समर्थकों पर मामला दर्ज किया है। पुलिस ने 10 आरोपितों को जेल भेज दिया है। इसके पूर्व सभी की कोरोना जांच भी की गई। पुलिस रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। तीन लोगों राहुल कुमार, पप्पू सिंह व अजय निषाद को थाना से ही बेल देकर छोड़ दिया गया। पेट्रोलिंग बढ़ा दी गई। दोनों गुट अपनी अपनी रणनीति बनाने में जुटे हैं। पुलिस दोनों गुट के लोगों पर नजर रख रही है।

जानकारों का कहना है कि अभी तो यह ट्रेलर था। पूरी फिल्म अभी बाकी है। अनुमान लगाया जा रहा है कि लोदना क्षेत्र में आनेवाले दिनों में फिर दोनों गुटों में हिंसक टकराव हो सकता है। पुलिस का कहना है कि फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है। मालूम हो कि नार्थ तिसरा में रघुकुल समर्थक सोहन हेंब्रम को कैटर पिलर कंपनी प्रबंधन ने काम से हटा दिया है। हटाने का आरोप सोहन ने मेंशन समर्थक सतीश महतो पर लगाया है। इसके बाद रघुकुल समर्थक ग्रामीण व सतीश समर्थकों के बीच कंपनी का काम बंद व चालू कराने को लेकर हिंसक झड़प हुई थी। थाना प्रभारी ने गणेश राय छोटू उर्फ रंजीत कुमार रवानी, विकास कुमार, कमलेश ङ्क्षसह, मुनेश्वर चौहान, भरत कुमार निषाद, मुन्ना पांडेय, मुकेश कुमार, प्रदीप ओझा उर्फ राकेश, छोटू ओझा को जेल भेजा। 

थाना प्रभारी ने दर्ज कराया मामला

तिसरा थाना प्रभारी ने मामला दर्ज किया है। कहा कि एक पक्ष के कन्हाई चौहान जो बीसीसीएल की जमीन पर अवैध रूप से घर बनाया है वह यहां पर डीजल, अवैध शराब का धंधा करता है। लोगों का आना जाना लगा रहता है। पुलिस को शनिवार को हिंसा दौरान 32 बाइक व 7. 65 एमएम का जिंदा कारतूस मिला। सभी पिस्टल लहराते भाग गए। कुछ दूरी पर सतीश, विजय, भोपाल, समरेश, देव, रजाक, प्रेम, श्यामल सहित दर्जनों लोग हथियार, लाठी, डंडा, तीर-धनुष के साथ थे। पुलिस को आते देख सभी भाग गए। 

महिलाएं पहुंची थाना

नार्थ तिसरा में घटना के बाद कई महिलाएं रविवार को थाना पहुंची। कहा कि झगड़ा किसी और का है। फंस गया कोई और है। कई ऐसे युवक को पुलिस ने उठाया है जिसका उस मामले से कोई लेनादेना नहीं है। महिलाओं ने अपने रिश्तेदारों को छोडऩे की बात पुलिस से की। पुलिस ने भरोसा दिलाया कि निष्पक्ष जांच होगी। दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। निर्दोष पर कार्रवाई नहीं होगी। ङ्क्षसदरी विधानसभा युवा कांग्रेस के अध्यक्ष अशोक मोदक ने प्रशासन से  निष्पक्ष जांच कर कार्रवाई की मांग की। 

बाइक मालिकों की पुलिस कर रही है छानबीन

तिसरा थाना क्षेत्र में गोलीबारी, मारपीट की घटना में पुलिस की ओर से 32 बाइक जब्त किए गए हैं। पुलिस इनके मालिकों की खोज व छानबीन कर रही है। पुलिस का कहना है कि छानबीन के बाद 32 बाइक मालिकों के खिलाफ भी मामला दर्ज किया जाएगा।  सभी के नाम पता जुटाए जा रहे हैं। किसी को भी छोड़ा नहीं जाएगा। सब के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

वर्जनदोनों पक्ष की ओर से अभी तक कोई मामला दर्ज नहीं हुआ है। पुलिस ने  दोनों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। आरोपितों की तलाश में छापेमारी की जा रही है। मास्टर माइंड को भी नहीं छोड़ा जाएगा। कानून तोडऩे का अधिकारी किसी को नहीं है।

- सीपी सिंह, तिसरा थाना प्रभारी। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस