धनबाद, जेएनएन : जमीन कारोबारी लाला खान की हत्या मामले में पुलिस नये पुराने सभी तरह के अपराधियों की तलाश शुरू कर दी है। खासकर वैसे शातिर जो अलग-अलग मामले में पुलिस रिकार्ड में पहले भी आ चुका है। एक बार फिर झारखंड बंगाल के पुराने नेटवर्क को खंगाल रही है। इसी के तहत पुलिस सुनील पासी को भी अनुसंधान के घेरा में रखा है। सुनील पासी पूर्व में निरसा गांजा प्रकरण में भी चर्चा में आया था। जिसमें बंगाल की एक महिला सिपाही के पति के खिलाफ गांजा तस्करी का आरोप लगाते हुए निरसा थाना में प्राथमिकी दर्ज कर दी गई थी। यहां तक की महिला सिपाही के पति को जेल भी भेज दिया गया था। बाद में मामला इतना तुल पकड़ा कि पुलिस मुख्यालय के दिशा निर्देश पर पूरे मामले की जांच हुई और जब मामला झूठा साबित हुआ और गांजा तस्करी के सिंडिकेट में शामिल लोगों का पर्दाफाश हुआ तो उसी दौरान सुनील पासी का नाम भी चर्चा में आया है। रंगदारी को लेकर लाला खान हत्याकांड में सुनील पासी की भी भूमिका तो नहीं इस बिंदु पर फिलहाल पुलिस अनुसंधान कर रही है। सुनील पासी के अलावा भी केंदुआडीह, तेतुलमारी, कतरास, झरिया के कुछ पुराने दागी पुलिस अनुसंधान के घेरे में है।

Edited By: Atul Singh