धनबाद : धनबाद नगर निगम क्षेत्र के कोयला क्षेत्रों में पिट वाटर सप्लाई सिस्टम के लिए सर्वे शुरू हो गया है। जमशेदपुर यूटिलिटीज एंड सर्विस कंपनी (जुसको) की टीम ने तीन स्थानों पर पिट वाटर की उपलब्धता और वहां बनने वाले फिल्टर प्लांट और उसमे लगने वाले मोटरों के लिए सर्वे किया गया। टीम ने लोदना एक पिट, जेलगोरा दो नंबर और जयरामपुर क्षेत्र में किया गया है। अगले दो महीनों में पहले फेज पर शुरू हो जाएगी। तीनों प्लांट की संयुक्त उत्पादन क्षमता 10 मिलियन लीटर प्रति दिन की होगी।

---------

विश्व की सबसे व्यवस्थित जलापूर्ति योजना

धनबाद नगर की यह महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट पिट वाटर सप्लाई करने वाली विश्व की सबसे व्यवस्थित जलापूर्ति योजना है। इससे पहले पिट वाटर सप्लाई करने के लिए कोई प्रोजेक्ट अधिक लागत व तकनीकी खामी के कारण पूरी सफल नहीं रही है। इसमें पुटकी में सिंफर द्वारा तैयार पिट वाटर प्लांट भी शामिल है। अधिक लागत होने के कारण आज तक इससे व्यवस्थित तरीके से जलापूर्ति शुरू नहीं हो पाई है। इस संबंध में निगम के अधिकारी दावा करते हैं कि जुसको के सहयोग से शुरू हो रहा यह प्रोजेक्ट कम लागत में तैयार हो जायेगी।

घर -घर कनेक्शन : जयरामपुर, लोदना और जेलगोरा में शुद्ध किए गए पिट वाटर को इस क्षेत्र के प्रत्येक घर तक पहुंचाया जाएगा। इसके लिए नगर निगम प्रत्येक घर में कनेक्शन देगा। इसके साथ पानी स्टोर करने के लिए अलग से 200 से 500 लीटर क्षमता वाला पानी टंकी भी दिया जाएगा।

आपस में जुड़ें होंगे प्लांट : निगम की अगले दो सालों में पूरे कोयला क्षेत्र पिट वाटर सप्लाई करने की योजना है। सभी प्लांट आपस में जुड़े रहेंगे। इससे किसी स्थान पर मोटर खराब होने या अन्य तकनीकी खराबी पर पेयजल आपूर्ति बाधित नहीं होगा।

---------

वर्जन

कोयला क्षेत्र में अभी उपलब्ध पानी स्वास्थ्यवर्धक नहीं है। एक बार इन प्लांटों के शुरू हो जाने के बाद एक लाख की आबादी को पीने के लिए स्वच्छ जल उपलब्ध होगा।

- शेखर अग्रवाल, महापौर

By Jagran