निचितपुर रेलवे हाल्ट को जाने में छूटते हैं लोगों के पसीने

कतरास : धनबाद- गया रेल खंड के निचितपुर हाल्ट से ट्रेन के जरिए दूर दराज सफर करना आसान हैं। लेकिन मुख्य सड़क से यहां आने में लोगों के पसीने छूट जाते हैं। यहां विकास के कार्य हुए, यात्री सुविधाओं की ओर रेलवे ने ध्यान भी दिया। वहीं मुख्य सड़कों से हाल्ट तक की दोनों सड़कों की हालत दिन प्रतिदिन खराब होते जा रही है।

राहुल चौक फोरलेन से स्टेशन और तोपचांची- कतरास पथ में गोपालपुर से हाल्ट तक आने वाली करीब आधा- आधा किलोमीटर की दोनों सड़क में वाहनों की बात तो दूर लोगों को पैदल आने- जाने में भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। फोरलेन से हाल्ट तक की सड़क में तीन साल पहले निर्माण का काम हुआ था, लेकिन यह सड़क पहले की स्थिति में आ गया। जगह जगह गढ्ढे, उभर आए। इसके अलावा नुकीले पत्थर के चलते लोगों को पैदल चलने में भी परेशानी होती है। यह स्थिति निर्माण के समय अभियंत्रण विभाग की अनदेखी और जनप्रतिनिधियों की उदासीनता के चलते उत्पन्न हुई है। इसके अलावा गोपालपुर से हाल्ट तक की सड़क का पक्कीकरण भी आज तक नहीं हुआ है। पांच साल पूर्व इस पथ पर बड़ी-बड़ी गिट्टी बिछाई गई थी। लेकिन पक्कीकरण का कार्य आज तक नहीं हुआ। फिलहाल इस सड़क की स्थित बदतर हो गई है। मालूम हो कि कतरास व पड़ोसी इलाके के सैकड़ों लोग रोज यहां से ट्रेन पर सफर करते हैं। डीसी लाइन बंद होने के बाद मानस के केंद्रीय महामंत्री ने इस हाल्ट पर यात्री सुविधा में बढ़ोतरी की मांग को लेकर आवाज उठाई थी। इनमें एक संपर्क पथ नगर निगम वार्ड एक के अधीन है। लेकिन निगम के बाबू का ध्यान इस ओर नहीं है और लोगों की समस्याएं जस की जस हैं।

Edited By: Jagran