गिरिडीह, जेएनएन। जिले के गावां में लगातार हो रही बिजली कटौती के खिलाफ शहरी फीडर के उपभोक्ताओं का आक्रोश फूट पड़ा। सैकड़ों की संख्या में लोग गावां बाजार से नारेबाजी करते हुए पहुंचे और बिजली कार्यालय का घेराव किया। इसके बाद लोग बिजली कार्यालय के समक्ष ही गावां-तीसरी पथ पर सड़क के बीचो-बीच बैठ गए और जाम कर दिया। एक घंटे सड़क जाम रहने के बाद गावां थाना प्रभारी विजय केरकेट्टा पहुंचे व लोगों से वार्ता कर सड़क जाम हटाने की अपील की।

ज्ञात हो कि गावां सहचरी क्षेत्र के बिजली उपभोक्ता विगत 8 वर्षों से शहरी क्षेत्र की बढ़ोतरी बिल देते आ रहे हैं, परंतु शहरी फीडर अलग नहीं किया गया था। बीते 5 जुलाई को शहरी फीडर अलग किया गया, परन्तु बिजली आपूर्ति में कोई सुधार नहीं हुआ। गुरुवार को भी गावां शहरी क्षेत्र में बिजली काट दी गई। गावां पावर हाउस में बिजली रहने के बाद भी शहरी क्षेत्र के लोगों को बिजली नहीं मिलती है। इससे लोगों का गुस्सा फूट पड़ा व आक्रोशित होकर सुबह 8 बजे से सड़क पर उतर गए।

ग्रामीणों का कहना था कि बिजली विभाग के पदाधिकारी फोन नहीं उठाते हैं। कोई बात करने को तैयार नहीं है। इसलिए जाम नहीं हटाएंगे। बाद में थाना प्रभारी के आग्रह व माले नेता नागेश्वर यादव की पहल पर ग्रामीणों ने सड़क से जाम हटा दिया व बिजली कार्यालय के समक्ष धरना पर बैठ गए। सुबह 11 बजे विभाग के नाम शहरी क्षेत्र में बिजली आपूर्ति में कटौती नहीं करने की मांग करते हुए धरना को समाप्त किया।

आवेदन में कहा गया है कि अगर आज से बिजली कटौती में सुधार नहीं हुआ तो ग्रामीण बाध्य होकर पावर हाउस में तालाबंदी करते हुए सड़क जाम करेंगे। आवेदन की प्रतिलिपि गावां बीडीओ मधु कुमारी व गावां थाना प्रभारी विजय केरकेट्टा को भी दी गई है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस