संस, कालूबथान/टुंडी/पूर्वी टुंडी/निरसा: झारखंड प्रदेश एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा ने राज्य इकाई के आह्वान पर पारा शिक्षक का स्थायीकरण की मांग को लेकर राज्यव्यापी कार्यक्रम के तहत बुधवार कि संध्या कालूबथान, टुंडी, निरसा, पूर्वी टुंडी में मशाल जुलूस निकाला गया। इस संबंध में संघ ने कहा कि 90 दिनों के स्थान पर 140 दिन बीत गए। परंतु सरकार द्वारा बनाई गई कमेटी ने अभी तक कोई सकारात्मक रिपोर्ट सरकार को नहीं सौंपी है। इससे राज्य के पारा शिक्षक ठगा महसूस कर रहे है। इसलिए राज्य इकाई की बैठक में चरणबद्ध आंदोलन की घोषणा की है। जब तक सरकार हमारी मांग छत्तीसगढ़ राज्य की तरह पूरा नही करती है। तब तक आंदोलन जारी रहेगा। वहीं मांगें पूरी नहीं हुई तो उग्र आंदोलन के लिए बाध्य होगें।

जुलूस में आताउर अंसारी, जनार्दन मिश्रा, परितोष दास, करीम अंसारी, आदि थे। वहीं टुंडी में जिलाध्यक्ष अश्विनी ¨सह, महमूद आलम, लिलानाथ मंडल, कोमेश हांसदा, अनिल राजवंशी, शत्रुघ्न कुमार आदि थे। वहीं पूर्वी टुंडी के जुलूस का समर्थन करते हुए रामपुर पंचायत समिति पबिया देवी भी शामिल हुई। पारा शिक्षक दिनेश रजक, दिनबंधु रजक, अशोक मंडल, दिनेश महतो, राजीव कुमार, बलदेव मंडल, सिदेश्वर रजक, लव मंडल आदि शामिल थे। वहीं निरसा में जुलूस का नेतृत्व प्रकाश तिवारी, पतित पावन, बिपिन, विशाल, संजीत गोराई, पुष्पेंद्र पांडेय, शशि भूषण ¨सह आद कर रहे थे।

Posted By: Jagran