जागरण संवाददाता, धनबाद: नवरात्रि का आज अंतिम दिन है। लोग दुर्गोत्सव के जश्न में डूबे हुए हैं। मौका पाकर सूर्यदेव भी छुट्टी पर चले गए हैं और बादलों ने आसमान घेर लिया है। सुबह से ही धूप गायब है। हल्की बारिश की भी संभावना जताई जा रही है। हालांकि बूंदाबांदी या हल्की बौछारों की ही संभावना है। 15 अक्टूबर तक बादल छाए रहने के बाद 16 अक्टूबर से हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश की संभावना जताई जा रही है। 16 से 18 अक्टूबर के दौरान धनबाद समेत राज्य के कई स्थानों पर तेज गर्दन के साथ बारिश हो सकती है। मौसम विभाग की मानें तो बंगाल की खाड़ी के पूर्व मध्य हिस्से में लो प्रेशर का क्षेत्र बना हुआ है, जो अगले 24 घंटे में ओडिशा और आंध्र प्रदेश के तटीय इलाके तक पहुंचेगा। लो प्रेशर के बादलों की आवाजाही के दौरान धनबाद समेत राज्य के ज्यादातर हिस्से में बारिश की संभावना जताई जा रही है।

दूसरी ओर, मानसून के जानकार डॉ एसपी यादव का कहना है कि बंगाल की खाड़ी में चक्रवात जैसी परिस्थिति बन रही है। पर इसका असर धनबाद या झारखंड में आंशिक ही रहेगा। मौजूदा लो प्रेशर के चक्रवात बनने पर इसका ज्यादा प्रभाव बांग्लादेश पर पड़ सकता है। आमतौर पर मानसून की विदाई के बाद आने वाले चक्रवात से बांग्लादेश की प्रभावित होता है। इस बार भी ऐसे ही संभावना है। चक्रवात से टूट कर आने वाले फिडर बादलों से 16 से 18-19 के दौरान धनबाद में कभी-कभी हल्की बारिश हो सकती है।

चार - पांच डिग्री तक गिर सकता है तापमान

धूप हटते ही तापमान में गिरावट महसूस की जा रही है। उमस भरी गर्मी दूर हो चुकी है। गर्मी के तेवर भी कम हो चुके हैं। 16 अक्टूबर से तापमान में और कमी आने की संभावना जताई जा रही है। 36 डिग्री तक पहुंचा अधिकतम तापमान 30 31 डिग्री तक पहुंच सकता है।

Edited By: Atul Singh